छत्तीसगढ़दन्तेवाड़ा जिला (दक्षिण बस्तर)

एनआईए ने 33 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की; इनमें से सिर्फ 6 गिरफ्तार, अभी भी 22 फरार

दंतेवाड़ा- छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा से विधायक भीमा मंडावी हत्याकांड में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को 33 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की है। जगदलपुर की एनआईए कोर्ट में फाइल की गई इस चार्जशीट में बताया गया है कि 6 आरोपी अभी तक गिरफ्तार हो चुके हैं। जबकि 5 की मौत हो गई है और 22 अभी भी फरार हैं।

दंतेवाड़ा निवासी मडका राम ताती, भीम राम ताती उर्फ भीम ताती, लिंग ताती उर्फ कुमारी लिंग ताती, लक्ष्मण जायसवाल उर्फ लक्ष्मण साओ, रमेश कुमार कश्यप उर्फ रमेश हेमला और हरिपाल सिंह चौहान को गिरफ्तार किया है। इन पर नक्सलियों को आश्रय, भोजन, लॉजिस्टिक सहायता, बिजली के तार और स्टील के कंटेनर उपलब्ध कराने का आरोप है।

एनआईए ने अपनी जांच में बताया है कि तत्कालीन विधायक भीमा मंडावी की हत्या की साजिश दिसंबर 2018 में रची गई थी। पश्चिम बस्तर में दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी स्तर की बैठक में लिया गया था। फिर दरभा डिवीजन कमेटी स्तर पर फरवरी 2019 में दंतेवाड़ा में गोदरदास के जंगल हुई बैठक में हत्या की साजिश रची गई।

हमले के लिए बाड़ा देव उर्फ बारसे सुक्का को जिम्मेदारी सौंपी गई। फिर 9 अप्रैल 2019 को नकुलनार-बचेली मार्ग पर श्यामगिरी गांव के पास आईईडी विस्फोट किया गया। नक्सली नेताओं का मानना था कि भीमा मंडावी वार्षिक मेले में शामिल होंगे। विस्फोट के बाद नक्सलियों ने फायरिंग की। इसमें विधायक भीमा मंडावी सहित सीएएफ के 4 जवान शहीद हुए।

एनआईए की जांच में नक्सलियों के शीर्ष नेताओं को भी आरोपी बनाया गया है। इसमें बाला केशव राव उर्फ गगना उर्फ बसवराज कट्टम सुदर्शन उर्फ आनंद, माललोजुल्ला वेणुगोपाल उर्फ भूपति उर्फ सोनू, थिप्पारी तिरुपति उर्फ देवजी रूला श्रीनिवास उर्फ रमन्ना, हिडमा उर्फ हिडमाना, गणेश उइके उर्फ पक्का हनुमंतु शामिल है।

Contact us 9399271717

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button