संस्कारधानी

हैदराबाद की आग संस्कारधानी में लगी

संस्कारधानी में होगा विरोध शांति मार्च निकालने की तैयारी

‘अब तो कदम कोई ऐसा ठोस उठाना होगा।
क्या हमें स्वयं ही बेटियों को इन दरिंदो से बचाना होगा!

कुछ इस तरीके से लोगों में चर्चा का माहौल है हैदराबाद में हुई घटना को लेकर लगातार विरोध के स्वर उठ रहे हैं संस्कारधानी राजनांदगांव में भी महिलाओं की सुरक्षा को लेकर के सरकार पर कड़े कदम उठाने को लेकर दबाव बनाने के लिए शांति मार्च किया जाना है इसके लिए ओ कान्हा महिला मंडल के सदस्यों ने तैयारी कर ली है। मानव मंदिर चौक गाड़ी लेकर शांति मार्च निकाला जाएगा।

ओ कान्हा महिला मंडल के अध्यक्ष अर्चना दास ने बताया कि अब तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में घटित डॉ प्रियंका रेड्डी हत्याकांड पूरे देश की सुर्खियों में है। अभी तक तो ‘निर्भया’ के दोषियों को ही फांसी की सजा नहीं दी गई है और एक और निर्भया हवस के दरिंदों की दरिंदगी का शिकार हुई है। अब तो यह प्रश्न पूरे देश के समक्ष मुंह बाए खड़ा है कि हम कैसे समाज में जी रहे हैं? जहां बेटियां कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। एक तरफ हम ‘बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ’ के नारे लगाते हैं, दूसरी तरफ वही बेटियां समाज में सुरक्षित नहीं हैं, जो अपने बलबूते पर कुछ बनकर दिखाती हैं। आखिर हम किस युग में जी रहे हैं? क्या हम सभ्य समाज में जीने लायक माहौल अपनी बहन-बेटियों को दे पाए हैं? ये कुछ ऐसे यक्ष प्रश्न हैं, जो हमारे सामने आज़ भी मुंह बाए खड़े हैं और हम इनका कोई यथोचित उत्तर नहीं दे पा रहे हैं इस कारण अब संस्कारधानी से यह आवाज उठनी चाहिए कि देश की हर बेटी को सुरक्षित माहौल सरकार कैसे दें.

उन्होंने संस्कारधानी राजनांदगांव के समस्त बुद्धिजीवी सामाजिक संस्था सामाजिक कार्यकर्ता और आम जनता से इस घटना को लेकर अपील की है कि हैदराबाद में हुई घटना के विरोध में स्थानीय जयस्तंभ चौक पर सोमवार शाम 5:00 बजे शांति मार्च किया जाना है जिसमें लगातार देश में नारी अस्मिता पर हो रहे हमलों को लेकर विरोध प्रगट किया जाएगा जिसमें आप सभी उपस्थित होकर देश में नारी अस्मिता को बचाने के लिए अपना योगदान दें।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close