मध्य प्रदेश

प्रदेश में बारिश का नया दौर, आज 27 अप्रैल को कई जिलों में बारिश के आसार

भोपाल
मध्यप्रदेश में वेस्टर्न डिस्टरबेंस, साइक्लोनिक सर्कुलेशन और ट्रफ लाइन की वजह से मौसम बदल गया है। शनिवार सुबह छिंदवाड़ा में आधा घंटा पानी गिरा। पिछले 7 दिन से किसी न किसी इलाके में बारिश हो रही है। आज 8वें दिन इंदौर, उज्जैन समेत प्रदेश के 17 जिलों में बारिश का अलर्ट है। रविवार को भी बूंदाबांदी हो सकती है।

ऑरेंज अलर्ट वाले जिलों में ओले गिरने की सम्भावना है। मौसम विभाग के अनुसार अभी वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ), साइक्लोनिक सर्कुलेशन और ट्रफ लाइन की वजह से पिछले 6 दिन से अलग-अलग क्षेत्र में बारिश हो रही है।

शुक्रवार को उज्जैन संभाग सहित कई जिले में तेज बारिश हुई है। उज्जैन के अलावा मंदसौर, छिंदवाड़ा, रतलाम, झाबुआ, धार, आगर-मालवा और राजगढ़ में बारिश हुई। राजगढ़ के खिलचीपुर में तेज हवा के साथ बारिश हुई। जिससे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की सभा का टेंट उड़ गया।

उज्जैन संभाग में पश्चिमी विक्षोभ से अरब सागर व बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी के कारण चक्रवात बनने से आंधी तूफान के साथ बारिश का दौर जारी है। अप्रैल महीने के प्रारंभिक दिनों से जिले में तेज गर्मी का दौर शुरू हो गया था और दिन का पारा 38 डिग्री तक पहुंचने लगा था। इसी बीच गुरुवार दोपहर को मौसम ने अचानक करवट ली और तेज आंधी के साथ बारिश शुरू हो गई। बारिश के कारण कुछ इलाकों में कुछ देर के लिए लाइट भी गुल हो गई। रुक-रुक कर बारिश का दौर शुक्रवार सुबह तक देखने को मिला।

तापमान में गिरावट उमस बढ़ी

प्रदेश में पड़ रही तेज गर्मी के बीच बादल छाने और तापमान में गिरावट होने से लोगों को गर्मी से राहत भी मिली है। लेकिन उमस के कारण लोगों का हाल अभी भी बेहाल है। अप्रैल माह समाप्ति की ओर है ऐसे में गर्मी का तेज दौर फिलहाल थम गया है। इससे पहले महीने के प्रारंभ में दिन का अधिकतम तापमान 35 से 38 डिग्री तक पहुंचने लगा था। महीने में ही पड़ रही इस तरह गर्मी से लोग बेहाल भी होने लगे थे। लेकिन गुरुवार को तेज गडगड़ाहट के साथ मौसम ने अचानक करवट बदली और तेज आंधी के साथ बारिश शुरू हो गई। जिससे लोगों को राहत मिल गई।

अप्रैल में टूटे बारिश के रिकॉर्ड

प्रदेश में हो रही बारिश से अप्रैल माह में बारिश के कई रिकॉर्ड टूटे हैं। भोपाल में इस महीने करीब पौने 2 इंच बारिश हो चुकी है, साथ ही इस दौरान लगातार 11 दिन तक बारिश होने का रिकॉर्ड भी बना है। 7 अप्रैल से 17 अप्रैल तक प्रदेश में लगातार बारिश हुई है। अब फिर से प्रदेश भीग रहा है। पिछले छह दिन से बारिश हो रही है। 27 अप्रैल तक बारिश होने का अनुमान है। दूसरे सिस्टम से लगातार छह दिन तक बारिश हो चुकी है।

माह के आखिरी दिन तक बारिश

प्रदेश में एक बार फिर मौसम बदला है, प्रदेश में उमस से परेशान लोगों को बारिश होने से थोड़ी राहत मिली है। हलाकि मौसम विभाग के अनुसार नीमच, मंदसौर, आगर-मालवा, राजगढ़, शाजापुर, श्योपुर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, विदिशा और सागर में ओले-बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 घंटे में भोपाल, शाजापुर, बड़वानी, इंदौर और उज्जैन सहित कई जिलों में बारिश हो सकती है। सीनियर मौसम वैज्ञानिक डॉ. दिव्या ई.सुरेंद्रन ने बताया कि अप्रैल के आखिरी सप्ताह में भी बारिश-आंधी का दौर जारी रहेगा।

कई जिलों में तापमान बढ़ा

प्रदेश में हो रही बारिश-आंधी के बीच प्रदेश के कई शहरों में गर्मी का असर देखने को मिल रहा है। बड़े शहरों की बात करें तो भोपाल में 40.2 डिग्री, इंदौर में 39.2 डिग्री, ग्वालियर में 41 डिग्री, जबलपुर में 40.4 डिग्री और उज्जैन में 38.2 डिग्री सेल्सियस टेम्प्रेचर दर्ज किया गया। वहीं प्रदेश के नौगांव में तापमान 42.1 डिग्री दर्ज किया गया। शिवपुरी और गुना में पारा 42 डिग्री रहा। टीकमगढ़, खजुराहो, सीधी, दमोह, रीवा, सतना में भी पारा 41 डिग्री के पार रहा।

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button