प्रदेशरायपुर जिला

रायपुर – आजादी की लड़ाई के साथ छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण में समाज के पुरखों और विभूतियों की महत्वपूर्ण भूमिका – श्री बघेल

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने रायपुर जिले के ग्राम चरौदा में आयोजित छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि इस समाज के पुरखों और विभूतियों ने केवल आजादी की लड़ाई ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने शिक्षा, सहकारिता, कृषि के साथ-साथ समाज सुधार जैसे उल्लेखनीय क्षेत्रों में भी अपना बहुमूल्य योगदान दिया है। यह एक प्रगतिशील समाज है और ऐसे समाज में जन्म लेना और सदस्य बनना गौरव की बात है। 
    मुख्यमंत्री ने कहा दो दिन बाद 17 दिसम्बर को इस सरकार के एक वर्ष पूरे हो रहे है। पिछले एक वर्ष में राज्य सरकार ने किसानों, मजदूरों, महिलाओं, बच्चों, ग्रामीणों के साथ-साथ नागरिकों के कल्याण हित के लिए बहुत सारे निर्णय लिए है। धान का रेट पूरे देश में सबसे ज्यादा छत्तीसगढ़ के किसानों को मिल रहा है। बिजली का बिल आधा किया गया है, बी.पी.एल के साथ-साथ ए.पी.एल परिवारों को भी राशन मिल रहा है। वर्तमान में केन्द्र शासन द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान की खरीद की जा रही है। पिछले दो वर्षों में केन्द्र शासन द्वारा धान खरीदी के लिए बोनस देने की अनुमति दी गई थी। इस वर्ष भी राज्य शासन द्वारा अनुमति मांगी गई है। किसानों को वायदे के अनुसार पूरी राशि किसी ना किसी रूप में दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार का खजाना आपका है। धान की कीमत इस राज्य के किसानों के लिए है। हर किसान को चाहिए कि वे अपने अपने ऋण पुस्तिका के माध्यम से केवल अपने खेत के धान को ही बेचें। 
    मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर ग्राम चरौदा के ऐतिहासिक मंदिर के पुनःनिर्माण के लिए 21 लाख रूपये की राशि देने की घोषणा की। उन्होंने रायपुर में 27 से 29 दिसम्बर तक होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य उत्सव के लिए नागरिकों को आमंत्रित किया। उन्होंने कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों के उत्कृष्ट कार्य करने वाले समाज के लोगों को सम्मानित किया। उन्होंने यहां पं. श्यामाचरण शुक्ल महाविद्यालय धरसींवा में सौ सीटर बालिका छात्रावास भवन का लोकार्पण किया और ग्राम पंचायत चरौदा में करीब साढ़े तीन करोड़ रूपए राशि के विभिन्न कार्यों का लोकार्पण भी किया। 
    कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा ने राज्य एवं क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी। समाज के केन्द्रीय अध्यक्ष डॉ. रामकुमार सिरमौर ने समाज के लिए कार्य करने वाले विभूतियों का उल्लेख किया और सामाजिक कार्यों की जानकारी दी। सरपंच श्री प्रदीप वर्मा ने आदर्श गौरव ग्राम चरौदा के कार्यों की जानकारी दी।  इस अवसर पर श्री दशरथ वर्मा ने  स्वागत भाषण दिया और मांग पत्र पढ़ा। 
अरपा,पैरी के धार गीत पर मुख्यमंत्री खड़े रहे
    कार्यक्रम में समापन के बाद जब मुख्यमंत्री मंच से उतर रहे थे तो उसी समय छत्तीसगढ़ के राजगीत ‘अरपा, पैरी के धार, महानदी है अपार‘ बजने लगा और इस पर बालिकाओं ने छत्तीसगढ़ी परिधान में नृत्य शुरू किया। मुख्यमंत्री ने तत्काल रूककर गीत बजते तक खड़े रहे और इस राजगीत को पूरा मान -सम्मान दिया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close