छत्तीसगढ़

CG : शासकीय राशन दुकान से खराब चावल बांटने की शिकायत,

वाड्रफनगर: अगर आप भी राशन कार्ड धारक है तो ये खबर आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण है। दरअसल, सार्वजनिक वितरण प्रणाली योजना में सरकारी राशन दुकानों पर गरीबों को दिए जाने वाले अनाज में घोर लापरवाही सामने आई है। बता दें कि शासकीय राशन दुकान में सड़ा हुआ चावल बांटा जा रहा है।

मामला सामने आने के बाद नागरिक आपूर्ति निगम की कार्यप्रणाली पर गंभीर सवाल उठ रहे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, लगभग 10 परिवारों को सड़ा हुआ चावल बांटा गया है। वहीं, यह पूरा मामला लोधी गांव के पीडीएस दुकान का बताया जा रहा है। जब यह बात जिला कलेक्टर तक पहुंची तो उन्होंने मामले की जांच के बाद उचित कार्रवाई की बात कही है।

बता दें कि कुछ महीने पहले भी शासकीय राशन दुकान में सड़े-गले चावल और गेंहू दिए जाने की बात सामने आई थी। वहीं, इस मामले पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने साय सरकार पर पीडीएस को लेकर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के सरकारी राशन दुकानों में गुणवत्ताहीन और सड़े-गले चावल, गेहूं की सप्लाई की जा रही है। अप्रैल और मई महीनें के लिए आवंटित चावल और गेहूं अधिकांश ग्रामीण इलाकों के दुकानों में बेहद रद्दी स्तर की है।

सुरेंद्र वर्मा ने कहा था कि छत्तीसगढ़ में डबल इंजन की सरकार आने के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेताओं की कमीशनखोरी के चलते आम जनता को मिलावटी और गुणवत्ता विहिन राशन लेनें मजबूर किया जा रहा है। इतना ही नहीं, उन्होंने ये भी कहा कि जब से छत्तीसगढ़ में विष्णुदेव साय की सरकार आयी है, पीडीएस के सरकारी राशन दुकानों से चना, नमक, शक्कर, मिट्टीतेल गायब हो गया है। कटौती करके जो चावल और गेहूं भेजे जा रहे हैं वह भी सड़े-गले अनुपयोगी, गुणवत्ताहीन और मिलावटी हैं।

advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button