राजनांदगांव जिले में कोरोना की रिकवरी दर 84.17 फीसद

राजनांदगांव । जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण और मौत के चिंताजनक आंकड़ों ने प्रशासन की चिंता दोगुनी बढ़ा दी है। मंगलवार को विभागीय समीक्षा बैठक के बाद कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में कोरोना के रोकथाम के संबंध में चर्चा करने बैठक रखी गई, जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री व राजनांदगांव विधायक डा. रमन सिंह, सांसद संतोष पांडे, खुज्जी विधायक छन्नाी साहू, महापौर हेमा देशमुख सहित अन्य जनप्रतिनिधि और पुलिस अधीक्षक डी. श्रवण मौजूद थे। बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री डा. सिंह ने जिले में कोरोना संक्रमण के हालात और इसकी रोकथाम के संबंध में चर्चा की। डा. सिंह ने कहा कि जिले में संक्रमण जिस तेजी से बढ़ा है, इसकी चेन तोड़ने के लिए हम सभी को सावधानी रखनी पड़ेगी।

जनप्रतिनिधियों ने बैठक में कोरोना केस की जानकारी भी ली, जिस पर कलेक्टर टीके वर्मा ने बताया कि कोरोना के केस बढ़ने पर शहरी क्षेत्र में शाम चार बजे से सुबह छह बजे तक लाकडाउन लगाया है। ब्लॉक स्तर पर भी स्थिति देखकर लाकडाउन लगाया जा रहा है। राज्य की इंट्री पाइंट महाराष्ट्र की सीमा से लगे बागनदी बार्डर पर लोगों की कोरोना जांच की जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि पेंड्री मेडिकल कालेज की मां पर दान की राशि से दस वेंटिलेटर लेने की व्यवस्था की जा रही है। दो दिनों में इसकी सप्लाई भी होगी। पैरामेडिकल स्टॉफ की कमी को देखते हुए मुख्यमंत्री राहत कोष से प्राप्त राशि से स्टॉफ की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह ने कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए 51 हजार रूपए की सहयोग राशि दी है। इधर मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डा. मिथलेश चौधरी ने बताया कि अभी तक कोविड-19 के 25 हजार 345 कोरोना पॉजिटिव मरीज है, जिनमें 21 हजार 333 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए हैं। सक्रिय प्रकरण 3779 और मृत्यु 233 लोगों की हुई है। मृत्यु दर 0.91 प्रतिशत और रिकवरी दर 84.17 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि अब तक तीन लाख 72 हजार 424 सैंपल लिया गया है, जिसमें आरटीपीसीआर के एक लाख सात हजार 976, ट्रू-नाट के 25 हजार 388 व रैपीड एन्टिजन जांच दो लाख 39 हजार 60 सैंपल लिया गया है।बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष गीता साहू, पार्षद कुलबीर छाबड़ा, पदम कोठारी, पूर्व सांसद मधुसूदन यादव, जिला पंचायत सीईओ अजीत वसंत, अपर कलेक्टर हरिकृष्ण शर्मा, अपर कलेक्टर सीएल मारकंडे, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेशा चौबे, एसडीएम राजनांदगांव मुकेश रावटे, डॉ. अजय कोसम, शांति विजय सेवा समिति के भावेश वैद सहित अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button