दुर्ग, भिलाई सहित राजधानी रायपुर के लोग गांव पहुंच रहे टीका लगवाने

पाटन/उतई/सेलूद। शहरों व गांवों में टीकाकरण अभियान जोर पकड़ने लगा है। टीका लगाने शहरों में लंबी लंबी लाइन लग रही है, इससे बचने अब शहर के लोग आस-पास के ग्रामीण क्षेत्र के टीकाकरण केंद्रों में पहुंचकर टीका लगवा रहें हैं। दुर्ग से लगे हुए नगर पंचायत उतई में दुर्ग, भिलाई के लोग पहुंचकर टीका लगवा रहे हैं।

इसी तरह पाटन, खर्रा टीकाकरण केंद्र में रायपुर से आकर लोग टीका लगवा रहे हैं। वहीं दुर्ग से लगे जेवरा-सिरसा व निकुम में भी शहर के लोग टीका लगवाने पहुंच रहे हैं। अभी तक किसी भी केंद्रों से ग्रामीणों द्वारा विरोध किए जाने की जानकारी नहीं मिली है।

पाटन ब्लाक में सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पाटन, झीट एवं सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों सहित 11 स्थानों में टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। इन टीकाकरण केंद्रों में 18 प्लस के लोगों की भीड़ तो रही साथ ही साथ 45 वर्ष से ऊपर वाले लोगों को भी टीका लगाया गया।

इनमें से कई लोग ऐसे हैं जो अपना टीका का डबल डोज लगवाए। जानकारी के मुताबिक पाटन ब्लाक के पाहंदा, तर्रा, अमलेश्वर इन केंद्रों में दुर्ग, भिलाई सहित राजधानी के लोग भी जिन्होंने पंजीयन आनलाइन कराया था वह टीकाकरण कराने पहुंचे। ग्रामीण क्षेत्रों में अभी टीकाकरण के लिए जब से ग्राम पंचायत के प्रतिनिधियों व स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने प्रचार प्रसार किया तब से थोड़ी सी जागरूकता देखने को मिल रही है। इनमें सबसे ज्यादा टीका लगवाने के लिए युवा पहुंच रहे हैं।

इसके अलावा 45 साल से ऊपर वाले लोग जो अपना पहला डोज लगवा चुके हैं वह भी दूसरा डोल लगवाने के लिए टीकाकरण केंद्र में आज पहुंचे। सुबह से ही बारिश के बाद भी केंद्रों में लोग पहुंचे। कई टीकाकरण केंद्र में भीड़ हो जाने के कारण लोगों को टोकन का वितरण किया गया।

कुछ लोगों ने आपत्ति भी की, लेकिन स्वतंत्र रूप से आनलाइन जिन्होंने पंजीकृत कराया है वह कहीं से भी टीका लगा सकते हैं इसकी जानकारी होने के बाद कोई विरोध नहीं किया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण के मामले में ग्रामीण क्षेत्र में भी अभी भी काफी जागरूकता का अभाव है। लोग सामान्य सदर्ीे, खांसी, बुखार, सिरदर्द आने पर स्थानीय डाक्टर से संपर्क कर दवाई ले रहे हैं वहीं स्वास्थ्य विभाग महिला बाल विकास के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मितानिन भी लोगों को घर-घर जाकर लक्षण पाए जाने पर टेस्ट कराने की अपील कर रहे हैं। टीकाकरण कराने की भी अपील कर रहे हैं।

टेस्ट का कार्य पाटन सहित झीट, गाड़ाडीह में अभी सुचारू रूप से चल रहा है। पाटन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोविड टेस्ट सेंटर में सुबह से ही लोगों को अपने बारी के लिए टोकन लेते हुए भी देखा गया। वहीं ग्रामीण क्षेत्र के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में जहां पर कोविड टेस्ट होता है वहां पर ग्रामीणों की जागरूकता का अभाव के कारण वहां टेस्ट कराने के लिए लोग ज्यादा नहीं आ पा रहे हैं।

पाटन ब्लाक के नगर पंचायत पाटन के खोरपा वार्ड, अटारी वार्ड में सबसे ज्यादा संक्रमित व्यक्ति मिले। इसके अलावा पाटन ब्लाक के ग्राम भरर, आगेसरा, बोरिद, सुरपा, उफरा में ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के कारण इन गांवों को कलेक्टर द्वारा कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा चुका है।

लगभग सभी ग्रामों में 10 से 20 की संख्या में कोरोना संक्रमित मरीज मिलने की पुष्टि स्वास्थ विभाग ने की है वहीं इनमें से ज्यादातर लोगों का होम आइसोलेशन के माध्यम से इलाज हुआ है और आधे से ज्यादा स्वस्थ भी हो चके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *