राजनांदगांव : गरीब वर्ग की रोटी की चिंता दूर हुई : नायक

० मुख्यमंत्री भूपेश की घोषणा का मजदूर कांग्रेस ने किया स्वागत
राजनांदगांव। राज्य के बीपीएल कार्ड धारकों को जुलाई से नवंबर तक मुफ्त चावल देने संबंधी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा को राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस ने बड़ा निर्णय कहा है। संगठन का कहना है कि, मुख्यमंत्री के इस निर्णय से कोरोना संक्रमण के दौर में भी गरीब वर्ग की रोटी की चिंता दूर हो गई है। यह निर्णय राज्य के गरीब परिवारों के लिए बड़ी राहत की बात है।

इस निर्णय को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की उदारता करार देते हुए राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस के जिला अध्यक्ष गोलू नायक ने कहा है, इस घोषणा से यह साफ हो गया है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार निःसंदेह गांव-गरीब और किसान हितैषी सरकार है और इसकी जितनी प्रशंसा की जाए कम है। बताते चलें कि, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के सभी बीपीएल कार्डधारकों को जुलाई से नवंबर तक मुफ्त चावल देने की घोषणा की है। साथ ही उन्होंने कार्ड धारकों को राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत पीएम गरीब कल्याण योजना के बराबर चावल की अतिरिक्त मात्रा देने का भी ऐलान किया है। मुख्यमंत्री की इस घोषणा से 67,90,987 राशन कार्डधारी लगभग 2,51,46,424 लाभार्थियों को फायदा होगा। गोलू नायक ने कहा है कि, कोरोना महामारी के बीच राज्य के गरीबों को राहत प्रदान करने के लिए छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने बड़ा ऐलान किया है, ताकि संकट के इस दौर में उन्हें किसी तरह की दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की है कि राशन कार्डधारकों को राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत पीएम गरीब कल्याण योजना के बराबर चावल की अतिरिक्त मात्रा प्रदान की जाएगी। इससे पहले छत्तीसगढ़ सरकार ने मई और जून के महीनों में भी पीडीएस के तहत गरीब और जरूरतमंद परिवारों को मुफ्त चावल वितरित किया था। मुख्यमंत्री बघेल की घोषणा के अनुसार बीपीएल परिवारों को अब इस वर्ष जुलाई माह से नवंबर माह तक निःशुल्क चावल उपलब्ध कराया जाएगा। इस निर्णय से अंत्योदय, प्राथमिकता, अन्नपूर्णा, विकलांग श्रेणियों के राशन कार्डधारकों को बहुत लाभ होगा। इसके अलावा, राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम के सभी लाभार्थियों को भी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के बराबर मात्रा में चावल उपलब्ध कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *