4507 सीट पर 2800 आवेदन, ज्यादातर पालकों ने शहरी क्षेत्र के स्कूलों काे चुना

शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत इस बार जिले के 310 प्राइवेट स्कूलों ने सीटें आरक्षित की है। इस बार कुल 4507 सीटें गरीब और कमजोर वर्ग समूह के लिए आरक्षित की गई है। इन सीटों के एवज में अब तक 2800 आवेदन आ चुके हैं। पालकों की ओर से आरटीई पोर्टल के माध्यम से आवेदन किया जा रहा है।

स्थिति यह है कि सीटें कम हैं पर आवेदन दो से तीन गुना आ गए हैं। शिक्षा विभाग की ओर से नोडल अफसरों के माध्यम से इन आवेदनों की स्क्रूटनी की जाएगी। इसके बाद ही इन्हें लॉटरी में शामिल किया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से 15 जून तक ऑनलाइन आवेदन करने मौका दिया गया था। लॉकडाउन के कारण कई पालक समय पर आवेदन नहीं कर पाए हैं।

सर्वर डाउन होने से परेशानी
तिथि बढ़ने से आवेदनों की संख्या में भी इजाफा होगा। हालांकि सर्वर डाउन होने की वजह से कई पालक आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। बताया गया कि सर्वर में दिक्कत राजधानी स्तर से है। इसलिए आवेदन जमा नहीं हो पा रहे हैं। डीईओ एचआर सोम ने बताया कि ऑनलाइन आवेदन लिए जा रहे हैं। समय बढ़ाकर राहत दी गई है।

लॉटरी कब होगी तय नहीं
रॉयल किड्स के सीजी पाठ्यक्रम वाले स्कूल में 6 आरक्षित सीटें हैं पर यहां के लिए 253 आवेदन जमा हुए हैं। 15 से 20 सीटों के लिए 150 से ज्यादा आवेदन आ गए हैं। तिथि बढ़ाए जाने से आवेदनों की संख्या और बढ़ने की संभावना बनी हुई है। हालांकि अभी तक यह तय नहीं हुआ है कि लॉटरी कब होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *