छत्तीसगढ़दन्तेवाड़ा जिला (दक्षिण बस्तर)

दंतेवाड़ा : कलेक्टर ने ली गरीबी उन्मूलन अभियान की समीक्षा बैठक : बनेंगे जब सब आत्मनिर्भर होगा न तब गरीबी का डर

जिले में गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम को ध्यान में रखते हुए यहाँ के आदिवासियों को आत्मनिर्भर बनाने की ओर कार्य किया जा रहा है, जिसकी रूपरेखा बनाने के लिए कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा द्वारा जिले के कृषि विभाग,उद्यानिकी विभाग, पशुधन विकास विभाग, मत्स्य विभाग,तथा क्रेडा विभाग की समीक्षा बैठक ली गयी। उन्होंने कृषि विभाग को जिले में धान का रकबा कम कर दलहन और तिलहन के रकबे को बढ़ाने के निर्देश दिए।साथ ही मक्का उत्पादन करने को प्रेरित करने को कहा ताकि पशुओं के लिये यहीं से चारा का भी उत्पादन हो सके।उद्यानिकी विभाग को लोगों को सब्जी लगाने खासकर मिर्च लगाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिये ताकि मिर्च तोड़ने के लिए दूसरे राज्यों की ओर लोगों का पलायन न हो बल्कि वे यहीं रहकर अपनी आजीविका चला सकें साथ ही जिस खेत मे सोलर पंप और तार फेंसिंग हो वहां अनिवार्य रूप से सब्जी लगवाने को कहा अन्यथा उनके विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी।मत्स्य विभाग को जिले में नए निर्मित हुए तालाबों तथा डबरी में मछली पालन करने साथ ही उसके मेड़ में टमाटर, भाटा, अरहर लगाने के निर्देश दिए,जिले में मछली पालन को बढ़ावा देने को भी कहा।रेशम विभाग की इंटर क्रॉपिंग की सराहना करते हुए उसे और बढ़ावा देने को कहा।राज्य शासन द्वारा चलाई जा रही सुपोषण योजना,मध्यान भोजन,छात्रावास आदि में सब्जी, दाल,अंडा भी जिले में उत्पादित कर उपयोग करने के निर्देश दिया ताकि यहाँ के लोग सुपोषित होने के साथ आत्मनिर्भर  भी हो।सभी विभागों के कृषि विस्तार अधिकारी को व्यक्तिगत लक्ष्य देकर उसे पूरा करने हेतु जोर दिया।इंटर क्रॉपिंग करने को प्रेरित कर यहां के लोगों के जीवन स्तर में सुधार लाने की ओर कार्य करने को कहा। बैठक में जिला पंचायत सीईओ एस आलोक,सभी संबंधित विभाग के विभागाध्यक्ष, डीपीएम,आर ई ओ तथा अधिकारी,कर्मचारी मौजूद थे।

Contact us 9399271717

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button