क्राइमप्रदेश

वीडियो कांड: छात्रों का धरना-प्रदर्शन खत्म, वॉर्डन को हटाया गया, यूनिवर्सिटी छह दिन के लिए बंद

यूनिवर्सिटी में कुछ छात्राओं के नहाते हुए वीडियो वायरल होने की खबर फैलने के बाद शनिवार आधी रात से छात्रों ने जोरदार विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया जो रविवार को भी दिनभर जारी रहा। हालांकि देर रात यह धरना प्रदर्शन समाप्त हो गया। पुलिस प्रशासन ने छात्रों की सभी मांगों को मान लिया।

चंडीगढ़ की एक निजी यूनिवर्सिटी में विद्यार्थियों का विरोध प्रदर्शन देर रात खत्म हो गया है। सीयू ने छात्रों की मांगे मान ली हैं। डीसी और आईजी की मौजूदगी में सभी मांगों पर सहमति बन गई है। वहीं, धरना प्रदर्शन में शामिल किसी छात्र पर कोई कार्रवाई नहीं होगी। हॉस्टल वार्डन बदल दिए जाएंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूनिवर्सिटी छह दिन के लिए बंद हो गई है। हॉस्टल की टाइमिंग बदल गई है। वहीं, छात्र कैंपस छोड़ रहे हैं। इसके साथ ही लड़िकयों के हॉस्टल में पहनावे पर कोई पाबंदी नहीं लगाई जाएगी। मामले में अब तक तीन आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। वीडियो बनाने वाली लड़की और उसका ब्वॉयफ्रेंड, लड़के का एक दोस्त भी गिरफ्तार किया गया है।

चंडीगढ़ में छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो वायरल, छात्र आधी रात को सड़कों पर उतरे
आपको बता दें कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में कुछ छात्राओं के नहाते हुए वीडियो वायरल होने की खबर फैलने के बाद शनिवार आधी रात से छात्रों ने जोरदार विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया जो रविवार को भी दिनभर जारी रहा। उन्हें तितर-बितर करने पहुंची पुलिस के साथ उनका टकराव हुआ।

आरोप है कि कई छात्राओं ने खुदकुशी की कोशिश की, हालांकि यूनिवर्सिटी और पुलिस ने इससे इंकार किया। वैसे तीन छात्राओं को तबीयत बिगड़ने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने वीडियो शूट कर अपने शिमला में अपने दोस्त को भेजने के आरोप में एक छात्रा को गिरफ्तार किया है। रविवार देर शाम तक छात्र यूनिवर्सिटी प्रशासन और पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप लगाते हुए परिसर के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे।

इनका आरोप है कि कम से कम 8 छात्राओं ने खुदकुशी की कोशिश की है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी छात्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 354-सी और आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

शाम को चंडीगढ़ पुलिस ने उसके दोस्त और कथित रूप से वीडियो वायरल करने के आरोपी सन्नी को भी शिमला में गिरफ्तार कर लिया है। मोहाली के एसएसपी विवेकशील सोनी ने दावा किया कि आरोपी छात्रा के मोबाइल से सिर्फ एक वीडियो मिला है, जो उसी का है।

छात्रा ने अपना वीडियो ही दोस्त को भेजा था। फिलहाल मोबाइल और लैपटॉप की फोरेंसिक जांच की जा रही है। मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं और कहा कि जिम्मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button