संस्कारधानी

देश डूबा शोक में खैरागढ़ यूनिवर्सिटी मना रहा था महोत्सव , कुलपति डॉ माडवी सिंह क्या कहती है देखें विडियो

0 खैरागढ़ यूनिवर्सिटी ने नही किया खैरागढ़ महोत्सव को स्थगित

बसंत शर्मा, संवाददाता

राजनांदगांव। पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद देश शहीदों को श्रद्धांजलि दे रहा है और एक प्रकार से शोक की लहर पूरे देश में चल रही है, तो वहीं दूसरी ओर खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय महोत्सव मना रहा था।

बताया जा रहा है कि खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय एशिया और छत्तीसगढ़ का एकमात्र संगीत विश्वविद्यालय है जो पूरे देश में प्रसिद्ध है। इसके बावजूद यूनिवर्सिटी खैरागढ़ महोत्सव में मशगूल था।

14 फरवरी को हुए आतंकी हमले के बाद सभी टीवी चैनलों में आतंकी हमले की न्यूज़ चल रही थी, वही एक ओर खैरागढ़ यूनिवर्सिटी महोत्सव मनाने में लगा हुआ था। वीआईपी की खातिरदारी कर रहा था। 14 फरवरी को व्यस्तता के चलते या किसी कारण वश खबर नही मिली हो, लेकिन 15 फरवरी की सुबह अभी समाचार पत्रों ने प्रमुखता से उठाया उसके बाद भी खैरागढ़ संगीत विवि इस ओर ध्यान नहीं दिया और 15 फरवरी की शाम खैरागढ़ महोत्सव के दौरान जो भी कार्यक्रम रखा था, उसे विधिवत जारी रखा गया।

खैरागढ़ यूनिवर्सिटी की आंख 16 फरवरी को खुली और कार्यक्रम का मूमेंट बदलते हुए शहीदो रंगोली बनाई गई और अतिथियों के लिए लाए गए गुलदस्तो को रंगोली के पास सजा कर रखा गया।

इस संबंध में खैरागढ़ यूनिवर्सिटी की कुलपति डॉ माडवी सिंह का कहना था कि खैरागढ़ महोत्सव 14, 15 व 16 फरवरी को आयोजित था जिसका समापन 16 फरवरी को किया गया, जो कि पुलवामा में शहीद हुए जवानों को समर्पित किया है। जैसा कि सभी जानते हैं संगीत सुख का अहसास कराता है तो वही शांति भी प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि कलाकारों द्वारा अमर शहीदो के नाम पर जो प्रस्तुति दी है , शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि है। वही डॉ मांडवी सिंह ने गलती पर पर्दा डालने हुए कहा कि कार्यक्रम शुरू हो गया था उसके बाद शहीदों के सहादत की सूचना आई। खैरागढ़ संगीत विवि में संगीत अध्ययन का माध्यम है, संगीत मनोरंजन नही है। संगीत परमानंद की प्राप्ति के लिए किया जाता हैं।

Show More

Related Articles

2 Comments

  1. कडुवाघूँट ई न्यूज़ पोर्टल द्वारा प्रकाशित सभी खबरे बेहतरीन होती है, मैं भी नागपुर से प्रकाशित हिन्दी अखबार का राजुरा तहसील संवाददाता (जि. चंद्रपुर) हुँ। आपको इस क्षेत्र के संवाददाता चाहिए हो तो कृपया बतलाइये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close