छत्तीसगढ़दन्तेवाड़ा जिला (दक्षिण बस्तर)

दंतेवाड़ा : कलेक्टर ने किया बड़े तुमनार छात्रावास का औचक निरीक्षण

छात्रावास में बच्चों के रहने खाने और पढ़ाई की सुविधा का लिया जायजाकलेक्टर ने बीमार बालक विजय का जाना हाल-चाल, जल्दी स्वस्थ होने की कामना कीदंतेवाड़ा, कलेक्टर विनीत नंदनवार ने गीदम विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम पंचायत बड़े तुमनार स्थित बालक आश्रम छात्रवास पहुंचे। उन्होंने आश्रम की व्यवस्थाओं की जमीनी हकीकत देखे। सर्वप्रथम पूरे आश्रम परिसर का भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान कक्षा 9 वीं के छात्र विजय वेक मलेरिया से पीड़ित बच्चे की खबर कलेक्टर के संज्ञान में आते ही शीघ्र बच्चे से मिल उनकी तबीयत पूछते हुए डॉ द्वारा दी गयी दवाइयों के बारे में पूछा। साथ ही अधीक्षक से उनके स्वास्थ्य का भी विशेष ध्यान रखने को कहा।उन्होंने परिसर में लगे पोषण बाड़ी में लगी सब्जियां जैसे-बरबट्टी, तोरई, लौकी, भिंडी, अन्य भाजियों का अवलोकन किया। अधीक्षक ने बताया कि यहां बच्चों के साथ मिलकर सब्जियां उगाई गयी है जिनका भोजन में भी उपयोग किया जाता है। उन्होंने छात्रावास में विद्युत व्यवस्था, भोजन तथा स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता की जानकारी ली। उन्होंने शयन कक्ष, छात्रों के कमरों में प्रकाश व्यवस्था, कंप्यूटर कक्ष, शौचालय एवं रसोई का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने खाद्य भंडार कक्ष में बच्चों को दी जा रही खाद्य पदार्थों के रखरखाव का भी निरीक्षण किया। कलेक्टर ने वहां साफ-सफाई, प्रबंधन व्यवस्था तथा अन्य सुविधाओं की प्रशंसा की।इसके पश्चात कलेक्टर ने छात्रावास के जिम का भी अवलोकन किया। वर्तमान में बच्चों के लिए आश्रम परिसर के बाहर ओपन जिम की सुविधा है। जहां बच्चे सुबह और शाम इस ओपन जिम में व्यायाम कर खुद को फिट रख ओपेन जिम का लाभ ले रहे हैं। साथ ही लगे खेल ग्राउंड में अपनी पसंदीदा खेल जैसे फुटबॉल, क्रिकेट का लाभ ले रहे हैं।इस दौरान उन्होंने आश्रम में रहकर पढ़ने वाले विद्यार्थियों से भी मुलाकात की, उनसे चर्चा कर सुविधाओं की जानकारी ली। कलेक्टर ने छात्रों से आश्रम में रहने, खाने और पढ़ने की सुविधाओं के बारे में भी पूछा। बच्चों ने बताया कि आश्रम में रहने की व्यवस्था अच्छी है। नियमित रूप से समय पर नाश्ता और दोनों समय में भोजन छात्रों को मिलता है। इसके साथ ही पढ़ने के लिए किताबें, पलंग के पास ही टेबल और सामान रखने के लिए रैक, अलमारी भी हॉस्टल में उपलब्ध है।कलेक्टर ने छात्र-छात्राओं से पढ़ाई के संबंध में जानकारी लेते हुए उन्हें मेहनत व लगन से पढ़ाई कर आगे बढ़ने प्रेरित किया। उन्होंने छात्राओं को बताया कि किसी भी विषय को रटे नहीं, उसे समझ कर याद रखने की कोशिश करें। कलेक्टर ने कहा कि पढ़ाई करना दुनिया का सबसे आसान काम है। उन्होंने विद्यार्थियों को आश्वस्त किया कि उनकी पढ़ाई के लिए अच्छा माहौल देने और सभी सुविधाएं देने में प्रशासन हमेशा तत्पर रहेगा। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ ललितादित्य नीलम, एसडीएम श्री कुमार बिश्वरंजन, आदिवासी विकास के सहायक आयुक्त डॉ. आनंद सिंह, डिप्टी कलेक्टर अरुण कुमार सोम सहित अन्य मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button