जनप्रतिनिधि एवं प्रशासन ने निभाई जिम्मेदारी,प्रवाशी मजदूर ने कहा अब लग रहा हमे की कोई अपना मिला

राजनांदगांव:-आज रात लगभग 10 बजे युवा नेता एवं पार्षद ऋषि शास्त्री को खबर मिली कि पेंड्री रेवाडी हाइवे से पैदल चलते हुए प्रवासी मजदूर राजनांदगांव की ओर बढ़ रहे थे शास्त्री ने वहां यथा शीघ्र पहुच जानकारी प्रसाशन तक पहुचाई प्रवेश किये सभी मजदूर 20 से 30 वर्ष के युवा थे उन्हों ने बताया कि वे कर्नाटक से छत्तीसगढ़ लैक्जरी बस से निशुल्क सफर तय कर आये हुए थे उनकी जानकारी अनुसार उन्हें मोहला व भानुप्रतापपुर के क्षेत्रों में जाना था वे गलती से पहले ही बस से उतर गए चुकी बस को आगे का भी सफर तय करना था बस में और भी प्रवाशी मजदूर थे छत्तीसगढ़ के अन्य साथी अपनी मंजिल की ओर निकल चुके थे,पार्षद ने वहां पहुच कर अपनी ओर से उन्हें यथाशक्ति स्वल्पाहार की सुविधा उपलब्ध कराई एक मजदूर की तबियत खराब थी उसे कमजोरी या किसी अन्य वजह से चक्कर आरहा था तब वहां हाइवे के वाहनों को रोकने का प्रयास किया गया मदद के लिए उन्होंने अन्य मित्रो को भी बुला लिया वर्तमान कोरोना स्थिति को देखते हुए अंत मे प्रसाशनिक सहयोग के लिए एस.डी.एम मुकेश रावटे सर को फोन किया एस डी एम सर ने तत्काल तहसीलदार मोर सर को मौके में भेज स्वल्पाहार एवं एम्बुलेंस सहित रैनबसेरा में भोजन वा ठहरने की व्यवस्था के साथ देर रात की कार्यवाही को अंजाम दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *