बलौदाबाजार भाटापारा जिला

शादीशुदा होते हुए भी कम नहीं हुआ दोनों का प्यार, ये देखकर पैरेंट्स बोले- बसा लो घर लेकिन…

बलौदाबाजार– छत्तीसगढ़ में अवैध संबंधों का एक अजीबों-गरीब मामला सामने आया है। जहां लड़की-लड़का दोनों ही शादीशुदा है लेकिन फिर भी घरवालों ने उनके साथ रहने पर रजामंदी दे दी। जब दोनों ने साथ रहना शुरू किया तब उनके बीच लड़की के ससुराल वाले आ गए। उनके बीच में आने से मामले ने एक अलग ही मोड़ ले लिया। आइए जानते है पूरा मामला…

मिली जानकारी के मुताबिक ग्राम तोरला निवासी विनोद साहू प्राथमिक शाला में प्रभारी हेडमास्टर के रूप में पदस्थ है। वह पिछले 15 वर्ष से सुंदरकेरा में पदस्थ है। इस दौरान वर्ष 2017 में उसकी पहचान 20 वर्षीय लड़की से हुई थी। जिसके बाद दोनों में प्रेम संबंध स्थापित हो गया। विनोद ने युवती से यह बात छिपाई थी कि वह पहले से शादीशुदा और बाल-बच्चेदार है। वह युवती को अक्सर अपनी इको कार में बिठाकर सुनसान इलाकों में घूमाने ले जाता था। उस दौरान कार में ही शारीरिक संबंध स्थापित करता था।

इस वर्ष अप्रैल माह में युवती की शादी आरंग थाना क्षेत्र के गांव में हो गई। विवाह के बाद भी उसका विनोद से संपर्क बना रहा। 8 जून को विनोद ने उसे फोन किया और मिलने की बात कही। दोपहर 1 बजे विनोद अपनी बाइक से उसके ससुराली गांव पहुंचा और युवती का इंतजार करने लगा। युवती मौका देखकर अपनी ससुराल से निकलकर उसके साथ बाइक पर बैठ गई। इसके बाद विनोद उसे बेमेतरा के बस स्टैण्ड स्थित लॉज ले गया। जहां कई बार उससे शारीरिक संबंध बनाया।

दूसरे दिन विनोद युवती को अपने घर तोरला ले गया और अपने माता-पिता से उसे पत्नी बनाकर रखने की बात कही। इसकी जानकारी विनोद के पिता ने युवती के परिजनों को दी। जिसके बाद युवती के परिजन विनोद के घर पहुंचे तो दोनों ने एक साथ रहने पर रजामंदी जताई। जिसके बाद दोनों साथ रहने लगे।

इधर, युवती के ससुराल पक्ष द्वारा उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट आरंग थाना में किए जाने पर दोनों को बयान के लिए बुलाया गया। जहां विनोद ने उसे पत्नी बनाकर रखने की बात कही, लेकिन बाहर आकर मुकर गया। इसके बाद युवती ने उसके विरुद्ध धोखे में रखकर बलात्कार करनेे की रिपोर्ट दर्ज करवाई।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close