मध्य प्रदेश

मेडिकल कॉलेज में ज्वाइनिंग से पहले, BMO की डॉक्टर बेटी ने फांसी लगाकर दी जान

शहडोल
शहडोल जिले के बुढ़ार खंड चिकित्साधिकारी डॉक्टर आर के वर्मा  की चिकित्सक पुत्री ने सोमवार सुबह अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। मृतका डॉक्टर कृतिका वर्मा का एमबीबीएस करने के बाद इस वर्ष पीजी एमडी मेडिसिन रीवा मेडिकल कॉलेज के लिए सिलेक्शन हुआ था। आज वहां ज्वाइन करने के कुछ घंटे पहले ही लेडी डॉक्टर का फांसी पर लटकता शव उनके घर के बाथरूम में  मिला। घटना की जानकारी लगते ही क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त हो गयी।

आज रवाना होना था रीवा
परिवार के लोगों का कहना है कि रीवा जाने के लिए सुबह से कृतिका तैयारी कर रही थी, बाथरूम में नहाने के लिए गई और काफी देर तक वह नहीं निकली जब दरवाजा खोला तो देखा कि फांसी पर शव लटका था। पुलिस को मामले की खबर दी गई घटना की जानकारी लगते ही थाना प्रभारी सहित पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई है।

जानकारी के अनुसार अपने बीएमओ पिता के अधीन ही डॉक्टर कृतिका सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बुढ़ार में काफी समय से ड्यूटी कर रही थी। इस संबंध बुढ़ार थाना प्रभारी संजय जायसवाल ने  बताया कि कृतिका वर्मा बुढ़ार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ थीं, सोमवार सुबह बाथरूम में डॉक्टर कृतिका वर्मा ने फांसी लगाकर जान दे दी। प्रथम दृष्टया मर्ग कायम कर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी गयी है। 

advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button