मध्य प्रदेश

केन्द्रीय राज्य मंत्री कुलस्ते एवं कैबिनेट मंत्री पटेल ने किया विभिन्न निर्माण कार्यों का उद्धाटन

भोपाल

केन्द्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते एवं प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास व श्रम मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने नरसिंहपुर जिले की जनपद पंचायत गोटेगांव की ग्राम पंचायत उमरिया में 20 लाख रुपये लागत के नवीन पंचायत भवन का उद्धाटन किया। साथ ही गोटेगांव विधानसभा की नेगुवां पंचायत में लगभग 37 लाख रुपये की लागत से निर्मित गौशाला, सीसी नाली निर्माण एवं रोड निर्माण का भी उद्घाटन किया गया।

केन्द्रीय राज्य मंत्री कुलस्ते ने कहा कि उनका गोटेगांव से पुराना रिश्ता रहा है, वे काफी अरसे से इस क्षेत्र से जुड़े हैं। आज जिन निर्माण कार्यों का उद्घाटन हुआ है, उनके बन जाने से क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राज्य शासन द्वारा नित नये हितग्राही मूलक कार्यक्रमों एवं योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। केन्द्रीय राज्य मंत्री कुलस्ते ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा आदिवासी अंचलों में रहने वाले जनजातीय बंधुओं की चिंता की गई। आदिवासी समाज के उत्थान, उनकी संस्कृति- परम्परा व विरासत को जीवंत बनाये रखने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा जनजातीय मंत्रालय बनाया गया। इसके तहत जनजातीय क्षेत्रों के लिए अनुदान प्रदान किया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व पीएम जन- मन योजना प्रारंभ की गई है, जिसका उद्देश्य दूरस्थ अंचल में रहने वाले आदिवासी समुदाय को सभी मूलभूत सुविधायें उपलब्ध कराना है। सरकार आदिवासी समाज के कल्याण के लिये प्रतिबद्ध है।

मंत्री पटेल ने कहा कि उमरिया पंचायत में नवीन पंचायत भवन, पुलिया, बाउंड्रीवॉल, सीसी रोड निर्माण, नाली निर्माण, पुलिया के लगभग 45 लाख रुपये से अधिक के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण किया गया है। क्षेत्र की जनता को इन निर्माण कार्यों का लाभ मिलेगा। मंत्री पटेल ने कहा कि नेगुवां से उनकी चार पीढ़ियों से रिश्ता रहा है। जब वे पहले यहां आते थे, तो सड़के नहीं हुआ करती थी। उस दौर में आने पर वही प्रेम व स्नेह मिलता था, जो आज मिल रहा है। यहां रहने वाले लोगों के स्वभाव में बदलाव नहीं आया है। अब निर्माण कार्यों को गति मिल जाने से क्षेत्र का विकास हुआ है। लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि आज पूरा विश्व जिन मोटे अनाज की बात कर रहा है, वह हमारे आदिवासी भाई बंधुओं का भोजन है। यह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ भोजन है, जो स्वादिष्ट एवं पोषक तत्व से भरपूर है। मोटे अनाज की खेती करने के लिए उन्होंने कृषकों से आग्रह भी किया है। इसकी फसल में कम पानी की आवश्यकता होती है। आदिवासी समाज ने प्रकृति के क्षरण के बगैर इन्हें उपजाया है।

इन विकास कार्यों का हुआ लोकार्पण

ग्राम पंचायत उमरिया में 3 लाख रुपये लागत की लाखन पटैल से मुख्य मार्ग की ओर सीसी रोड, 4.16 लाख रुपये लागत की ग्राम पंचायत भवन की बाउंड्रीबॉल, 5.19 लाख रुपये लागत की फूलदास से शमशान की ओर सीसी नाली, 5.40 लाख रुपये लागत की हाकम झारिया के घर से गुर्रा रोड तक सीसी नाली निर्माण और 7.597 लाख रुपये लागत की पुलिया के निर्माण कार्यों का उद्घाटन किया।

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button