मध्य प्रदेश

सिंधिया ने सर्किट हाउस में काटी रात, जब कटवाई ₹600 की रसीद तभी मिला कमरा

 गुना

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश के एक सर्किट हाउस में रात्रि विश्राम करने के लिए रसीद कटवानी पड़ी. गुना संसदीय क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार सिंधिया ने पीडब्ल्यूडी विभाग के खाते में 600 रुपये का चालान जमा किया तब जाकर उन्हें सर्किट हाउस में रुकने की अनुमति मिली.

ज्योतिरादित्य सिंधिया को VIP कक्ष में ठहराया गया. VIP कक्ष (R) में रुकने के लिए सिंधिया ने शासकीय खाते में 600 रुपये जमा किए. इस दौरान सर्किट हाउस के दूसरे कक्ष में गुना कलेक्टर सतेंद्र सिंह के लिए भी कक्ष आवंटित था.

  दरअसल, लोकसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता लागू होते ही गुना सर्किट हाउस चुनाव आयोग के अधीन आ गया है. सर्किट हाउस में VIP की हैसियत से रुकने के लिए भी शुल्क देना पड़ता है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना लोकसभा क्षेत्र के दौरे पर हैं. ऐसे में उनके रात्रि विश्राम के लिए सर्किट हाउस में व्यवस्था की गई थी. लेकिन इसी बीच चुनाव आचार संहिता लागू हो गई. जिसके बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शाम 6.15 PM बजे सरकारी खाते में 600 रुपये का चालान जमा कराया.

  बीजेपी ने अपनी पहली लिस्ट में ही गुना लोकसभा सीट से सिंधिया को टिकट दिया है. इसके बाद से संसदीय क्षेत्र में बीजेपी कैंडिडेट ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तूफानी दौरे शुरू कर दिए हैं. सिंधिया कार्यकर्ताओं के साथ चुनाव की रणनीति बनाने में जुट गए हैं. जल्द ही उनकी पत्नी प्रियदर्शिनी राजे और पुत्र महार्यमन सिंधिया भी चुनावी प्रचार में दिखाई देंगे.

सिंधिया पर आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

गुना लोकसभा सीट पर भले ही कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार घोषित न किया हो लेकिन बीजेपी कैंडिडेट ज्योतिरादित्य सिंधिया की घेराबंदी शुरू कर दी है. कांग्रेस ने सिंधिया पर आदर्श आचार संहिता उल्लंघन का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से शिकायत करने की बात कही है.

कांग्रेस का आरोप है कि आचार संहिता लागू होने के बावजूद ज्योतिरादित्य ने समर्थकों को सरकारी सर्किट हाउस में बीजेपी की सदस्यता दिलाई. ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने समर्थकों के गले में बीजेपी का गमछा डालते दिखाई दे रहे हैं . इस दौरान एक कार्यकर्ता सिंधिया के समर्थन में अपना गला कटवाने की बात भी कहता दिख रहा है.

  कांग्रेस ने सर्किट हाउस में भाजपा की सक्रियता को आचार संहिता का उल्लंघन माना है. सर्किट हाउस का उपयोग भाजपा कार्यालय की तरह किया जा रहा है. कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत करने की बात कही है.

कांग्रेस का कहना है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया इतने बड़े नेता हैं तो फिर छोटे काम क्यों कर रहे हैं? आखिर किस बात का डर है जो लोगों के गले में भाजपा की पट्टियां डाल रहे हैं. लोगों को पार्टी में शामिल करने के लिए प्रलोभन क्यों दिया जा रहा है?

  कांग्रेस का आरोप है कि जिस सर्किट हाउस को चुनाव आयोग के ऑब्जर्वर के लिए रिजर्व रखा गया था, वहां सिंधिया समर्थकों को भाजपा की सदस्यता दिलाई गई.

अमृतकाल से शताब्दीकाल तक भारत को विश्वगुरु बनाना है: सिंधिया
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बयान "2029 नहीं, 2047 के लिए लगा हूं" काफी चर्चाओं में है. प्रधानमंत्री मोदी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री का संकल्प भारत का सफर 2024 -2047 तक अमृतकाल से शताब्दीकाल तक भारत को विश्ववगुरु बनाने का है, देश को आर्थिक शक्ति के रूप में विकसित करने का है.

हम 10वें स्थान से अब 5वें स्थान पर पहुंच गए हैं, अगले तीन साल में Germany व Japan को पछाड़कर तीसरे स्थान पर पहुंच जाएंगे. प्रधानमंत्री मोदी का संकल्प है कि भारत को आर्थिक शक्ति के साथ आध्यात्मिक शक्ति बनाकर पूरे विश्व में नक्षत्र की तरह सुशोभित किया जाए.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा प्रधानमंत्री के रूप में नेतृत्व करते हुए करोड़ों पीएम आवास बनाये गए जो पिछले 65 वर्षों के कार्यकाल में नहीं बन पाए. अमेरिका की आबादी के बराबर आयुष्मान कार्ड दिए जिससे करोड़ों लोगों को स्वास्थ्य लाभ ,महिलाओं को उज्ज्वला योजना का लाभ…यही तो "मोदी की गारंटी" है .

  ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना लोकसभा क्षेत्र के दौरे पर हैं . इस दौरान सिंधिया ने ब्राह्मण समाज, रघुवंशी समाज, जाटव समाज सहित अन्य समाजों के साथ मंच साझा किया है.

 

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button