मध्य प्रदेश

कोटा से NEET की तैयारी कर रही शिवपुरी की स्टूडेंट (छात्रा) का अपहरण, फिरौती में मांगे 30 लाख

शिवपुरी

कोटा से NEET की तैयारी कर रही शिवपुरी की स्टूडेंट (छात्रा) का अपहरण कर लिया गया। बदमाशों ने उसके पिता के वॉट्सएप नंबर पर इसकी जानकारी दी। साथ ही, लड़की की फोटो भी भेजी। उसमें लड़की के हाथ-पैर और मुंह बंधे हुए हैं। छात्रा को छोड़ने के एवज में 30 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई है। छात्रा के पिता शिवपुरी के बैराड़ थाना क्षेत्र में रहते हैं। कोटा पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी हुई है। शिवपुरी एसपी अमन सिंह राठौड़ ने मामले की जानकारी लेने और सहयोग की बात कही है।

अपहरणकर्ताओं ने छात्रा के पिता के मोबाइल पर  छात्रा के फोटो भेजे में हैं जिसमें उसके मुंह, हाथ और पैर बंधे हुए दिखाई दे रहे हैं, फोटो के साथ अपहरण कर्ताओं ने 30 लाख रुपये की फिरौती मांगी है, कोटा पुलिस ने पिता की शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है, उधर शिवपुरी पुलिस भी कोटा पुलिस के संपर्क में है।

शिवपुरी जिले के बैराड़ कस्बे में एक स्कूल संचालित करने वाले रघुवीर धाकड़ की 20 साल की बेटी काव्या कोटा में रहकर NEET की तैयारी कर रही है, सोमवार को उनके तब होश उड़ गए जब उनके व्हाट्स एप पर दिन में करीब 3 बजे काव्या के हाथ, मुंह और पैर बंधे फोटो पहुंचे,  अपहरणकर्ताओं ने वारदात की जानकारी देकर 30 लाख रुपये की मांग की, फोटो भेजने वाले ने काव्या को जिन्दा छोड़ने के बदले 30 लाख रुपये की फिरौती की मांग की।

अपहरणकर्ता ने एक बैंक खाते का नंबर  भेजकर सोमवार शाम तक रुपये भेजने की चेतावनी दी, स्कूल संचालक ने इतने रुपये नहीं होने और इसकी व्यवस्था के लिए समय मांगा तो अपहरणकर्ता ने काव्या की हत्या की धमकी दी जिसके बाद पिता ने कहा कि वो पैसों का इंतजाम करता है, उसके बाद रघुवीर धाकड़ ने कोटा पुलिस से टेलीफोन पर संपर्क कर पूरा घटनाक्रम बताया

रघुवीर धाकड़ अन्य परिजनों के साथ कोटा पहुंचे और विज्ञान नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई, उन्होंने पुलिस को पूरी बात बताई और सुबूत के तौर पर अपहरणकर्ता के साथ हुई चैट सौंपी, उन्होंने पुलिस को बताया कि वे सितम्बर 2023 में बेटी को विज्ञान नगर थाना क्षेत्र में संचालित कोचिंग में एडमिशन करा कर गए थे, उसे एक रूम भी कोचिंग के पास ही दिलवाया था।

पुलिस ने रघुवीर की शिकायत अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है,  कोटा के डीएसपी मनीष शर्मा के मुताबिक पुलिस फोटो के आधार पर उस स्थान की पहचान करने की कोशिश कर रही है जहाँ के ये फोटो हो सकते हैं, पुलिस मोबाइल नंबर, कोचिंग संस्थान, आसपास के सीसीटीवी के आधार पर घटनाक्रम की बिन्दुवार जानकारी जुटा रही है।

रघुवीर धाकड़ ने पुलिस को बताया कि बेटी दीपावली पर घर आई थी उसके बाद से वो कोटा में ही थी, रविवार को उसकी अपनी माँ से बात हुई थी तब उसने परीक्षा देकर आने की बात कही थी तब वो ठीक थी, और सोमवार को अपहरण हो गया और 30 लाख की फिरौती मांगी गई, पिता ने ये भी बताया कि बेटी दो साल पहले इंदौर में रहकर नीट की तैयारी कर रही थी तब शिवपुरी के पोहरी कस्बे के एक लड़के ने उसे इंदौर जाकर परेशान किया था जिसकी शिकायत इंदौर पुलिस में कराई थी।

पुलिस में शिकायत के बाद दो लड़कों द्वारा बेटी के मोबाइल पर धमकी भरे मैसेज भेजे जाने लगे जिसकी शिकायत भी पुलिस में की गई लेकिन फिर बेटी को इंदौर से शिवपुरी वापस शिवपुरी बुला लिया, काव्या 6 महीने तक शिवपुरी में रही फिर उसका एडमिशन कोटा राजस्थान करा दिया गया जहाँ उसके साथ ये घटनाक्रम हो गया।

उधर शिवपुरी एसपी अमन सिंह राठौर में एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ को टेलीफोन बातचीत में बताया कि वे कोटा एसपी से लगातार संपर्क में हैं और उन्हें जो सहयोग चाहिए वे उपलब्ध करा रहे हैं वे भी बच्ची के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रहे है,

 

 

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button