मध्य प्रदेश

उज्जैन स्टेशन से महाकाल मंदिर तक

 उज्जैन

उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन करने के लिए देशभर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। श्री महाकाल महालोक परिसर बनने के बाद इसमें काफी वृद्धि हुई है। श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए उज्जैन में लगातार विकास कार्य किए जा रहे हैं।

अब रेलवे स्टेशन से महाकाल मंदिर तक पहुंच आसान करने के लिए रोप वे बनाया जा रहा है। रोप वे पौने दो किलोमीटर लंबा होगा, इससे मात्र पांच मिनट में मंदिर पहुंचा जा सकेगा। 153.72 करोड़ रुपये की लागत वाले 12 टावर के इस रोप वे को नेशनल हाईवे लाजिस्टिक मैनेजमेंट लिमिटेड बनवाएगी।

निर्माण का लक्ष्य सिंहस्थ-2028 के पहले रखा गया

इसके निर्माण का लक्ष्य सिंहस्थ-2028 के पहले रखा गया है। सड़क विकास निगम के अधिकारियों का कहना है कि टेंडर प्रक्रिया पूरी कर ली गई है, कंपनी को 24 माह में रोप वे बनाना होगा और उसका संचालन, रखरखाव भी वही करेगी। उधर, इसके लिए लोक निर्माण विभाग एवं नेशनल हाईवे लाजिस्टिक्स मैनेजमेंट लिमिटेड के बीच जो अनुबंध हुआ है, उस पर गुरुवार को मध्य प्रदेश सरकार की कैबिनेट ने भी अनुमति प्रदान कर दी।

उज्जैन में बढ़ा यातायात का दबाव

श्री महाकाल महालोक परिसर बनने के बाद से उज्जैन में यातायात का दबाव काफी बढ़ गया है। इसी को देखते हुए सरकार ने उज्जैन रेलवे स्टेशन से महाकाल मंदिर तक रोप-वे योजना बनाई थी। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने 24 फरवरी 2022 को रेलवे स्टेशन से महाकाल मंदिर तक रोप वे बनाने की घोषणा की थी। रोप-वे का बोर्डिंग स्टेशन इंदौर गेट रेलवे स्टेशन के समीप माल गोदाम की तरफ बनेगा। दूसरा स्टेशन त्रिवेणी संग्रहालय के सामने पार्किंग स्थल और तीसरा स्टेशन महाकालेश्वर मंदिर के पास गणेश कालोनी से लिंक होगा।

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button