छत्तीसगढ़रायगढ जिला

CG : सेल्फी पॉइंट में हत्या, होली मनाने गांव पहुंचा कातिल गिरफ्तार

रायगढ़। पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल द्वारा फरार आरोपियों एवं वारंटियों के होली में उनके गांव आने की संभावना पर सभी थाना प्रभारियों को विशेष तौर पर मुखबीर लगाकर पतासाजी करने निर्देशित किया गया था जिसमें तमनार पुलिस को एक साल पुराने बहुचर्चित पालीघाट सेल्फी पॉइंट के हत्या मामले के फरार आरोपी/ हिस्ट्रीशीटर जयनंद साहू को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है ।

ज्ञात हो कि पिछले साल मार्च 2023 को रायगढ़-उड़ीसा मार्ग थाना तमनार क्षेत्र के पालीघाट सेल्फी प्वाइंट के पास दो ट्रक ड्राइवर प्रवीण ओझा और पवन उपाध्याय निवासी उत्तर प्रदेश का शव मिला था । मामले की तफ्तीश करते हुए 48 घंटे के भीतर ब्लाइंड मर्डर केस का सुलझाते हुए रायगढ़ पुलिस ने खुलासा में बताया कि दोनों ट्रेलर ड्राइवरों के ट्रेलर लूटपाट की सुनियोजित प्लानिंग कर हत्या के बाद शवों को पालीघाट सेल्फी पॉइंट पर डम्प किया गया था । मामले में 08 आरोपी- मनोज साहू, अजय साव, आकाश कहरा, जुनैल खान, राकेश खूंटे, अजय यादव, नंदु लहरे और जयनंद साहू की संलिप्तता थी जिसमें रायगढ़ पुलिस की टीम द्वारा 06 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था । आरोपी जुनैल खान ने आरोपी नंदु लहरे निवासी बरतुंगा, डभरा और जयनंद साहू निवासी खुर्सीपाली खरसिया से मिलकर गाड़ी को कटवाने की व्यवस्था करवाया था । मामले में नंदू लहरे और जयनंद साहू फरार थे जिनके विरुद्ध धारा 299 सीआरपीसी के तहत चालान पेश किया गया । न्यायालय द्वारा दोनों का स्थायी वारंट जारी किया गया है । पुलिस की लगातार दबिश पर आरोपी जयनंद साहू, रायगढ़ जिले से फरार होकर पंजाब, दिल्ली में छिपकर रह रहा था । फरार आरोपी के होली में गांव आने की संभावना पर थाना प्रभारी तमनार निरीक्षक आर्शीवाद रहटगांवकर मुखबीर लगाकर रखे हुये थे जिस पर आरोपी जयनंद साहू जो थाने का हिस्ट्रीशीटर है के गांव में आने की सूचना मिली । 24 मार्च को खरसिया पुलिस थाने के प्रभारी प्रशिक्षु आईपीएस आकाश श्रीश्रीमाल के नेतृत्व में आरोपी जयनंद साहू को पुलिस ने धर दबोचा और हत्या मामले में घरघोड़ा न्यायालय पेश कर जेल भेजा गया है । फरार आरोपी नंदू लहरे की सरगर्मी से पतासाजी की जा रही है ।

पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल के दिशा निर्देशन एवं एडिशनल एसपी आकाश मरकाम व डीएसपी अभिनव उपाध्याय के मार्ग पर आरोपी की पतासाजी, गिरफ्तारी में प्रशिक्षु आईपीएस/थाना प्रभारी खरसिया आकाश श्रीश्रीमाल, थाना प्रभारी तमनार निरीक्षक आशीर्वाद राहटगांवकर, सहायक उपरीक्षक खेमराज पटेल, ASI लक्ष्मी राठौर (थाना खरसिया), प्रधान आरक्षक देव राठिया, पुरुषोत्तम सिदार और पुष्पेंद्र सिदार की विशेष भूमिका रही है।

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button