मध्य प्रदेश

मुरैना में रेलवे का ब्रिज ढहा, 50 फीट गहरी नदी में गिरे 7 मजदूर, 5 की हालत गंभीर

मुरैना

मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में रेलवे का ब्रिज अचानक ढह गया। इस घटना में ब्रिज के ऊपर काम कर रहे मजदूर 50 फीट नीचे नदी में गिर गए। इसमें 5 मजदूरों की हालत गंभीर बनी हुई है। मौके पर बचाव कार्य किया जा रहा है

घटना मुरैना जिले में मंगलवार की सुबह 8 बजे की है। यह पुल जौरा के पास नैरोगेज लाइन का पुल है। मंगलवार को सुबह जिस समय हादसा हुआ, उस समय पुराने और जर्जर हो चुके पुल को तोड़ने का काम किया जा रहा था। तभी अचानक यह हादसा हो गया। मजदूर एक के बाद एक पुल के नीचे गिरने लगे। नदी में पानी ज्यादा नहीं होने के कारण श्रमिकों को काफी चोट आई है। वहीं लोहे के भी सरिए से श्रमिक गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

बताया जा रहा है कि पुल जैसे ही धराशाही हुआ उसके साथ ही श्रमिक भी गिरने लगे। श्रमिक अपने आपको संभालते तब तक वे पुल के साथ नीचे आ चुके थे। सात घायल मजदूरों में से 5 की हालत गंभीर है, जिन्हें पहले जौरा अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें मुरैना के जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

कुछ दिन पहले ही रेलवे ने पुल से लोहे की एंगल व गर्डर आदि को मजदूरों से खुलवाना शुरू कर दिया। लेकिन मंगल सुबह अचानक पुल ढह गया। जिससे पुल के एंगल खोल रहे मजदूर पुल से करीब 50 फीट नीचे गिर गए। जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें तुरंत जौरा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल होने वाले मजदूरों की संख्या 7 है।

सिंधिया परिवार ने बनाया गया था ये पुल

बता दें कि ग्वालियर से श्योपुर नैरोगेज ट्रेन के लिए रियासत कालीन समय में सिंधिया परिवार द्वारा ये पुल बनाया गया था, लेकिन वर्तमान समय में नेरोगेज से ब्रॉडगेज रेलवे लाइन का उन्नयन होने से अनुपयोगी हो गया था. वहीं रेल विभाग द्वारा इस पुल को डिसमेंटल का काम किया जा रहा था.

जानकारी के अनुसार, सिकरौदा में छोटी रेलवे लाइन का कुंवारी नदी पर पुल बना है लेकिन ब्रॉडगेज रेलवे ट्रेक डलने के बाद नेरोगेज रेलवे पुल (Morena Bridge Collapse) अनुपयोगी हो गया था, इसकी वजह से रेलवे द्वारा इस पुल (Morena Bridge Collapse) को डिस्मेंटल करवाया जा रहा था। इसी दौरान पल भरभराकर नीचे गिर गया और पुल को डिस्मेंटल कर रहे सभी मजदूर भी इस हादसे की चपेट में आ गए।

घटनास्थल पर मौजूद अधिकारियों ने बताया कि, कुछ दिन पहले ही रेलवे (Morena Bridge Collapse) ने पुल से लोहे की एंगल व गर्डर आदि को मजदूरों से खुलवाना शुरू कर दिया। लेकिन मंगल सुबह अचानक पुल ढह गया। जिससे पुल के एंगल खोल रहे मजदूर पुल से करीब 50 फीट नीचे गिर गए। जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें तुरंत जौरा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल होने वाले मजदूरों की संख्या 7 है। इसके अलावा जिन मजदूरों को गंभीर रूप से चोटें आईं थी उनको मुरैना के जिला अस्पताल में रैफर कर दिया है।

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button