मध्य प्रदेश

धार भोजशाला में सर्वे का 14वां दिन हिंदू फ्रंट फॉर जस्टिस की राष्ट्रीय अध्यक्ष भी पहुंचीं

धार
आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की टीम आज 14वें दिन धार की भोजशाला का सर्वे कर रही है। हिंदू फ्रंट फॉर जस्टिस की राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट रंजना अग्निहोत्री भी सर्वे के काम में सहभागिता करने आई हैं।

अभी तक नींव नहीं मिली है। 2 सीढ़ियां जरूर पुराने जमाने के पत्थरों की नजर आई हैं। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि नीचे तलघर जाने का कोई रास्ता हो सकता है। हिंदू फ्रंट फॉर जस्टिस की राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट रंजना अग्निहोत्री भी सर्वे के काम में सहभागिता करने पहुंचीं। रंजना राजा भोज के समकालीन स्मारकों का अवलोकन करेंगी। भोजशाला परिसर में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

सुप्रीम और हाईकोर्ट के आदेश की कॉपी लेकर पहुंचीं रंजना  
बता दें कि हिन्दू फ्रंट फॉर जस्टिस की राष्ट्रीय अध्यक्ष और लखनऊ की एडवोकेट रंजना अग्निहोत्री तीन दिन के लिए धार आई हैं। भोजशाला मामले में उच्च न्यायालय इंदौर खंडपीठ में रंजना अग्निहोत्री, आशीष जनक, आशीष गोयल, सुनील सारस्वत और मोहित गर्ग ने ही याचिका दाखिल की थी। गुरुवार को रंजना अग्निहोत्री सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के आदेश की कॉपी लेकर पहुंची। रंजना ने अधिकारियों से चर्चा की। रंजना ने कहा कि 13 दिन में कौन जीपीएस, जीआरएस वैज्ञानिक तकनीक का उपयोग किया गया है अधिकारियों के साथ मिलकर चर्चा करूंगी। रंजना के साथ आशीष गोयल और गोपाल शर्मा मौजूद रहे।

टीम ने दो कुओं को भी चिह्नित किया है
एएसआई टीम ने बुधवार को भोजशाला के गर्भगृह में सर्वे का काम किया है। जिसमें फोटोग्राफी, वीडियो ग्राफी सहित मेजरमेंट को लेकर जब्ती की गई है। सर्वे टीम का फोकस भोजशाला के साथ-साथ उससे जुड़ी कड़ियों पर भी है। सर्वे टीम ने भोजशाला के पिछले हिस्से में दो कुओं को भी चिह्नित किया है।

चार टीमें अलग-अलग स्थानों पर कर रहीं काम
भोजशाला में सर्वेक्षण करने आए अधिकारियों ने अपनी 4 टीम बना रखी हैं, जो परिसर में अलग-अलग स्थानों पर काम कर रही हैं। एक टीम जल्द ही मांडू जाएगी, जहां राज्य पुरातत्व विभाग के अधीन बना एक बड़ा संग्रहालय है। यहां सालों पहले भोजशाला से लाई गई परमारकालीन प्रतिमाएं रखी हैं। टीम इन प्रतिमाओं पर बनी आकृतियों का अवलोकन करेगी।

 

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button