मध्य प्रदेश

रिपोर्ट के अनुसार 74 प्रत्याशियों में से 12 पर आपराधिक प्रकरण दर्ज तो 22 हैं करोड़पति, पांच महिलाएं भी चुनावी मैदान में

भोपाल
मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान 13 मई को होना है। कुल आठ संसदीय सीट पर 74 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। एसोसिएशन आफ डेमोक्रेटिक रिफार्म्स (एडीआर) एडीआर द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार 12 प्रत्याशियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए है तो छह प्रत्याशियों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए है।

वहीं 22 प्रत्याशी करोड़पति है, जिन्होंने अपनी औसतन संपत्ति 1.97 करोड़ रुपये घोषित की है। चौथे चरण के प्रत्याशियों में से 69 पुरुष तो पांच महिलाएं चुनाव लड़ रही है। मध्य प्रदेश इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म्स ने मध्य प्रदेश लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे चरण में चुनाव लड़ने वाले सभी 74 प्रत्याशियों के शपथ पत्रों की विश्लेषणात्मक रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट के अनुसार देवास एससी संसदीय सीट से आठ प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं धार एसटी से सात, इंदौर से 14, खंडवा से 11, खरगोन एसटी से पांच, मंदसौर से 8, रतलाम एसटी से 12 और उज्जैन एससी से 9 प्रत्याशी चुनावी मैदान में है।

भाजपा के तीन तो कांग्रेस के छह प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले हैं दर्ज
एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार भाजपा के आठ में से तीन प्रत्याशियों पर अपराध और एक पर गंभीर अपराध दर्ज है। कांग्रेस के सात में से छह, आम जनता पार्टी (इंडिया) का एक और 33 निर्दलीय प्रत्याशियों में से दो ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। मंदसौर से कांग्रेसप्रत्याशी दिलीप सिंह गुर्जर, रतलाम एसटी से निर्दलीय प्रत्याशी सुमित्रा मेड़ा, धार एसटी से कांग्रेस प्रत्याशी राधेश्याम मुवेल, देवास एससी से भाजपा प्रत्याशी महेंद्र सिंह सोलंकी, रतलाम एसटी से कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया, उज्जैन एससी से कांग्रेस प्रत्याशी महेश परमार, खरगोन एसटी से कांग्रेस प्रत्याशी पोरलाल खरते, मंदसौर से भाजपा प्रत्याशी सुधीर गुप्ता, खंडवा से निर्दलीय प्रत्याशी लक्ष्मी नारायण कटारे, कांग्रेस प्रत्याशी नरेंद्र पटेल, भाजपा प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल और आम जनता पार्टी (इंडिया) प्रत्याशी प्रकाश राठौर बंजारा ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं।
 
करोड़पति प्रत्याशियों पर करोड़ों रुपये की देनदारी भी
22 प्रत्याशी करोड़पति है लेकिन इन पर करोड़ों रुपये की देनदारी भी है। कांग्रेस और भाजपा के सात-सात, बसपा के दो, आम जनता पार्टी (इंडिया), भारतीय सामाजिक पार्टी, अखिल भारतीय परिवार पार्टी के एक-एक और तीन निर्दलीय प्रत्याशी करोड़पति है। शीर्ष तीन करोड़पति प्रत्याशियों में देवास एससी से कांग्रेस प्रत्याशी राजेंद्र राधाकृष्ण मालवीय 22 करोड़, मंदसौर से भाजपा प्रत्याशी सुधीर गुप्ता 19 करोड़ और मंदसौर से ही निर्दलीय प्रत्याशी विजय राणा 10 करोड़ रुपये की संपत्ति के मालिक है। इनमें ऐसे भी प्रत्याशी है जो करोड़ों रुपये के देनदार है। मंदसौर से भाजपा प्रत्याशी सुधीर गुप्ता पांच करोड़ रुपये, उज्जैन एससी से अनिल फिरोजिया तीन करोड़ रुपये और मंदसौर से कांग्रेस प्रत्याशी दिलीप सिंह गुर्जर एक करोड़ रुपये के देनदार है।

सबसे अधिक वार्षिक आय घोषित करने वालों में रतलाम एसटी से कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया की कुल वार्षिक आय 96 करोड़ रुपये, मंदसौर से भाजपा प्रत्याशी सुधीर गुप्ता 60 लाख रुपये और खरगोन एसटी से भाजपा प्रत्याशी गजेंद्र सिंह पटेल की 53 लाख रुपये वार्षिक आय है। वहीं सबसे कम संपत्ति वाले प्रत्याशियों में से धार एसटी से निर्दलीय प्रत्याशी सुनील अज्रावत 30 हजार रुपये, इंदौर से एसयूीसीआइ (सी) के प्रत्याशी कामरेड अजीत सिंह 38 हजार रुपये और खरगोन एसटी से निर्दलीय प्रत्याशी नरसिंह सोलंकी के पास कुल 38 हजार रुपये की संपत्ति है।

15 प्रत्याशी ग्रेजुएट तो 13 प्रत्याशी दसवीं पास भी नहीं
74 में से 15 प्रत्याशी ग्रेजुएट, 15 पोस्ट ग्रेजुएट तो 13 प्रत्याशी दसवीं पास भी नहीं है। चार प्रत्याशी 10वीं, 14 प्रत्याशी 12वीं, तीन प्रत्याशी आठवीं तो तीन प्रत्याशी पांचवीं पास है। आयु की बात करें तो 25 से 30 वर्ष के पांच, 31-40 के 20, 41-50 के 21, 51-60 के 18, 61-70 के 9 और 71 से 80 वर्ष की आयु का एक प्रत्याशी है।

लोकसभा चुनाव का चौथा चरण एक नजर में

संसदीय सीट — 8

कुल प्रत्याशी — 74

मतदान — 13 मई

आपराधिक मामलों के प्रत्याशी — 12 (16 प्रतिशत)

गंभीर आपराधिक मामलों के प्रत्याशी — 6 (8 प्रतिशत)

करोड़पति प्रत्याशी — 22 (30 प्रतिशत)

प्रत्याशियों की औसतन संपत्ति — 1.97 करोड़ रुपये

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button