मध्य प्रदेश

जिला जेल के कैदियो को मिला कौशल प्रमाण पत्र और कैरियर मार्गदर्शन

डिंडोरी
जिला जेल के कैदियो को समाज की मुख्य धारा से जुड़ने के लिए जिला जेल परिसर में जन शिक्षण संस्थान  द्वारा रोजगारपरक 3 महत्वपूर्ण ट्रेड- सहा.ड्रेस मेकर (सिलाई) ,पेंटर हेल्पर एवं  इलेक्ट्रीशियन के प्रशिक्षण बैच का संचालन किया गया।
 आज जेल अधीक्षक महोदय श्री लव सिंह काटिया जी एवं जेलर  संतोष गणेशेजी के कर कमलों से सफल बंदियो को प्रमाण पत्र वितरित किये जाने के साथ  कैरियर काउंसलिंग तथा जीवन जीने की कला पर मार्गदर्शन किया गया।

 काटिया जी ने बंदियो को प्रेरित करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि आप लोग जिस भी गलती/अपराध से यहाँ आये है वह दुबारा न हो और जब यहाँ से जाए तो प्रायश्चित के साथ एक हुनर लेकर जाए और जिससे आप अपने परिवार, समाज, गांव तथा अपने देश मे एक पहचान बनाएं

जिंदगी हम सभी को हर काम करने का एक अवसर देती है। अपने उन अवसरों में से जो चुना वो यहाँ तक लाया, शायद विधाता ने इस हुनर को सीखने का अवसर देने के लिये यहाँ भेजा इसलिए अपने यहाँ सिलाई, पेंटिंग आदि सीखी अब आपको अवसर दिया जा रहा है अपने कौशल  क्षमता का प्रदर्शन करने का और अपना नाम, पैसा, और इज्जत कमाने का l उन्होंने बंदी जनों को  शुभकामना देते हुए जन शिक्षण संस्थान परिवार को इस महान कार्य के लिए भूरि भूरि प्रशंसा की l अतिथि वक्ता
 मुकेश भांडे कौशल एवं रोजगार सृजन विशेषज्ञ ने बंदियो को जीवन मे उपयोग होने वाले 4 महत्वपूर्ण सिद्धान्त को बताया कि आप इसे अपनाकर अवश्य सफल हो सकते है वो है- S.W.O.T.

S- strength (क्षमता)
अपनी क्षमता को जाने।
W-weakness (कमजोरी)
अपनी कमजोरी का आकलन करो
O-opportunity (अवसर)
अवसर को गवाना नही उनका उपयोग करना
T-target (लक्ष्य)

जीवन का स्पष्ट लक्ष्य रखे।
इस प्रकार  भांडे जी ने बंदियो यहाँ रह कर स्वयं को जानने के लिए कहा और यहाँ से जाने के बाद इन बातों पर अमल कर के जो भी काम करेंगे उसमे सफलता जरूर मिलेगी।

अंत मे संस्थान की ओर से  चंदन चौहान ने कारागार में निरुद्ध व्यक्तियों के लिए संस्थान द्वारा प्रशिक्षण संचालित किए जाने के लिए जिला जेल प्रशासन का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आगे भी जेल अधीक्षक की अनुमति से इसी प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे, उन्होंने यह प्रशिक्षण अवसर  संतोष गणेशे जी के प्रयास, प्रेरणा एवं सहयोग से सफलतापूर्वक अवसर देने के लिए आभार व्यक्त किया l उन्होंने बताया कि वर्तमान सत्र के लिये ट्रेनिंग केलेन्डर जारी किए गए है जिनमे सिलाई, ब्यूटीशियन, कढ़ाई, पेंटिंग, कंप्यूटर, इलेक्ट्रीशियन, ऑटोमोबाइल, प्लम्बर, फ़ूड प्रोसेसिंग का प्रशिक्षण दिया जाना है। जेलर  गणेशे जी ने बंदियो के लिए कंप्यूटर और सिलाई,कढ़ाई के प्रशिक्षण के लिए स्वीकृति प्रदान की है इससे जिसे बंदियो मैं हर्ष एवं उत्साह का संचार हुआ है l

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button