मध्य प्रदेश

मुरैना में कड़ी सुरक्षा में होगा चुनाव, 694 मतदान केंद्रों पर होगी खड़ी रहेगी जेसीबी, ये है कारण

मुरैना

 लोकसभा चुनाव के मतदान के लिए कलेक्टर अंकित अस्थाना और पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। इसी के साथ रविवार शाम से धारा 144 लागू कर दी गई है। रैली, आम सभाएं सभी प्रतिबंधित की गई। रविवार को चुनाव प्रचार पूरी तरह से थम चुका है। अब प्रत्याशी केवल व्यक्तिगत जनसंपर्क ही कर सकते हैं। उनके लिए आमसभा करने पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा।

कलेक्टर अंकित अस्थाना ने कहा कि विधानसभा चुनावों की ही तरह लोकसभा चुनावों में भी पंचायत से लेकर हर पोलिंग बूथ पर पुलिस व प्रशासन मुस्तैदी के साथ तैनात रहेगा। वहीं प्रत्येक पोलिंग बूथ पर सीसीटीवी कैमरे की भी व्यवस्था रहेगी। इसके अलावा जो संवेदनशील और अतिसंवेदनशल मतदान केंद्र चिहिंत किए गए हैं, वहां भी सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस व एसएफ बल तैनात रहेगा।

यहां होगी जेसेबी मशीन

इसके बाद भी अगर कोई अप्रिय घटना घटित होती है तो उसके लिए पुलिस अधीक्षक व कलेक्टर द्वारा मोबाइल पर जानकारी दी जा सकती है। अब संवेदनशील 694 मतदान केंद्रों के इर्द-गिर्द जेसीबी मशीन रखी गई है।

किसी भी प्रकार की गलत गतिविधि के लिए यह तैयार रखी गई है। मतदान के समय किसी भी प्रकार की गलत गतिविधि करने वालों को नहीं बक्शा जाएगा। पुलिस और प्रशासन सख्ती से निपटेगा।

पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान ने बताया कि लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए करीब पांच हजार सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। जो हर एक पोलिंग बूथ पर अपनी नजर रखेंगे। इसके अलावा जो संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्र हैं उन पर भी अतिरिक्त पुलिस व एसएफ बल तैनात रहेगा।

इसके साथ ही सोमवार को पोलिटेक्निक कालेज व सबलगढ़ नेहरू डिग्री कॉलेज से चुनाव सामग्री का वितरण किया जाएगा। यहीं से बसों के लिए जरिए पोलिंग पार्टियों को भी पोलिंग बूथों तक भेजा जाएगा।

मतदाताओं को मिलेगा छाछ और आम पना

कलेक्टर अंकित अस्थाना ने बताया कि मतदान के लिए आने वाले मतदाताओं को गर्मी को देखते हुए छाछ और आम पना की भी सुविधा दोपहर 12 से चार बजे तक दी जाएगी। इसके अलावा चिकित्सक देव गर्ग भी वोटिंग करने के बाद आने वाले लोगों को फ्री में चिकित्सकीय परामर्श देंगे। इसके साथ ही ई रिक्शा चालकों ने भी इस मतदान में सहयोग करने का निर्णय लिया है।

मतदान करने वाले जो भी जरूरतमंद लोग हैं, उनको निशुल्क उनके मतदान केंद्र पर ले जाएंगे और वापस घर तक पहुंचाएंगे। यदि कोई बुजुर्ग एवं गर्भवती जरूरतमंद चिकित्सा केंद्रों तक जाना चाहते है उनको भी वहां पहुंचने में उनकी मदद करेंगे।

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button