छत्तीसगढ़

CG : पिता सब इंस्पेक्टर, बेटी बनी IFS अधिकारी

जगदलपुर। दंतेवाड़ा जिले के गीदम में रहने वाले बालमुकुंद यादव की छोटी बेटी प्रीति ने यूपीएससी द्वारा आयोजित भारतीय वन सेवा परीक्षा में ऑल इंडिया रैंकिंग में 63वां स्थान हासिल किया। ज्ञात हो कि संघ लोक सेवा आयोग ने 8 मई को भारतीय वन सेवा (आईएफएस) परीक्षा 2023 का अंतिम रिजल्ट घोषित कर दिया है।

प्रीति की सफलता की जानकारी मिलते ही परिजनों से लेकर रिश्तेदारों के द्वारा बधाई देने के लिए तांता लग गया। बताया जा रहा है कि श्री यादव ने छोटी बेटी की लगन को देखने हुए अपना खुद का घर न बनाते हुए किराए के मकान में रहकर उसके सपनों को साकार करने में किसी भी प्रकार से कोई भी कमी नहीं की, जिसका नतीजा आज सबने देख ही लिया।

बालमुकुंद यादव मंडी में सब इंस्पेक्टर है, वहीं प्रीति की मां ने बताया कि प्रीति को पढऩे का काफी शौक है। प्रीति की इस लगन को देखने के बाद पिता ने खुद के मकान को बनाने से अच्छा पहले प्रीति के पढ़ाई पर ध्यान दिया। प्रीति को अच्छी शिक्षा मिल सके, इसलिए माता-पिता ने एक-एक पैसे जोडक़र उसे दिल्ली भेज पढ़ाया, जिसका नतीजा यह रहा कि बेटी ने मां-पिता का मान बढ़ाया है।

अपनी सफलता के पीछे प्रीति ने अपने माँ-पिता को अपना आदर्श माना है। प्रीति ने 23 साल की उम्र में इस सफलता को हासिल किया है। प्रीति ने यूपीएससी के भारतीय वन सेवा परीक्षा में अपना लोहा मनवाते हुए 63वां रैंक लाया। प्रीति की इस सफलता का पता लगते ही दंतेवाड़ा विधायक से लेकर डीएफओ ने प्रीति को बधाई दी है, साथ ही उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button