मध्य प्रदेश

उज्जैन-आलोट संसदीय क्षेत्र के लिए आज मतदान

उज्जैन
लोकसभा निर्वाचन-2024 के चौथे चरण में संसदीय क्षेत्र उज्जैन-आलोट के लिए सोमवार 13 मई को प्रात: 7 से शाम 6 बजे तक मतदान होगा। उज्जैन संसदीय क्षेत्र में 9 अभ्यर्थी चुनाव मैदान में हैं।

उल्लेखनीय है कि उज्जैन-आलोट संसदीय क्षेत्र के अन्तर्गत उज्जैन संसदीय क्षेत्र में 2097 मतदान केंद्रों पर मतदान किया जाएगा। जिसमें प्रमुख रूप से विधानसभा नागदा खाचरौद में 273, महिदपुर में 262, तराना में 238, घट्टिया में 279, उज्जैन उत्तर में 266, उज्जैन दक्षिण में 294, बड़नगर में 232 एवं आलोट में 253 मतदान केंद्र शामिल हैं। जिले में 266 और आलोट में 59 क्रिटिकल मतदान केंद्र चिन्हित किए गए हैं। इन केंद्रों पर माइक्रो आब्जर्वर द्वारा निगरानी की जाएगी। 2097 मतदान केंद्रों के लिए कुल 240 सेक्टर ऑफिसर बनाए गए हैं। लगभग 1105 मतदान केंद्रों पर वेब कास्टिंग के माध्यम से निगरानी की जाएगी। उज्जैन संसदीय क्षेत्र में लगभग 9318 कर्मचारी मतदान के लिए उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त 240 सेक्टर ऑफिसर्स, 342 माइक्रो आब्जर्वर, 1844 विशेष पुलिस अधिकारी मिलकर निर्वाचन कराएंगे।

367 पोलिंग बूथ का महिलाकर्मी करेंगी संचालन
कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि 367  ऐसे मतदान केन्द्र बनाए गए हैं, जिनका पूरी तरह संचालन महिलाकर्मी करेंगी। जिसमें उज्जैन के 347 और आलोट के 20 मतदान केंद्र शामिल है। इन पोलिंग बूथ में केवल महिला कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। 105 आदर्श मतदान केंद्र बनाएं गए हैं।

9318 कर्मचारी कराएंगे मतदान
मतदान सम्पन्न कराने के लिए 9318 से अधिक  अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है। इसके अलावा संसदीय क्षेत्र में 342 माइक्रो ऑब्जर्वर, 240 सेक्टर अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

3000 से अधिक का सुरक्षा बल रहेगा तैनात
शांतिपूर्ण मतदान संपन्न करने के लिए पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल तैनात किया गया है। सीएपीएफ के 300 जवान, एसएएफ के 450, होमगार्ड के 1221 जवान, 1175 हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल, 236 सहायक पुलिस निरीक्षक सहित अन्य पुलिस अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था के लिए लगाएं गए है। 1844 को विशेष पुलिस अधिकारी भी बनाया गया है।

मतदान केन्द्रों में व्यवस्थाएं
13 मई को होने वाले मतदान के लिए मतदान केन्द्रों में मतदाताओं की सुविधा के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं की गई हैं। गर्मी के मौसम को देखते हुए सभी केन्द्रों में छाया के लिए टेंट, मतदाताओं के बैठने के लिए कुर्सियों की व्यवस्था रहेगी। इसके साथ ही पीने के लिए ठंडा पानी उपलब्ध रहेगा।

315 क्रिटिकल मतदान केन्द्र
नागदा-खाचरौद विधानसभा में 31 क्रिटिकल मतदान केन्द्र, महिदपुर में 32, तराना में 29, घट्टिया में 40, उज्जैन उत्तर में 55, उज्जैन दक्षिण में 50, बड़नगर में 29 और आलोट में 49 इस प्रकार कुल 315 क्रिटिकल मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इन मतदान केन्द्रों में सीसीटीवी एवं वीडियोग्राफी कराई जाएगी। मतदान केन्द्रों में पर्याप्त सुरक्षा बल उपलब्ध रहेगा।

17 लाख से अधिक मतदाता करेंगे मतदान
आलोट विधानसभा सहित उज्जैन संसदीय क्षेत्र में 23 अप्रैल 2024 की स्थिति में 17 लाख से अधिक मतदाता हैं, जिसमें 907231 पुरुष, 891395 महिलाएं एवं 78 अन्य शामिल हैं। उज्जैन के मतदाताओं जेंडर रेशो 984 है और सर्विस वोटर की संख्या 1535 हैं। जिनमे 1483 मतदाताओं के द्वारा घर पहुंच मतदान सुविधा का लाभ उठाते हुए मतदान किया जा चुका हैं।

 

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button