छत्तीसगढ़राजनांदगांव जिला

अस्पताल में डॉक्टर नहीं, घायल युवक की ईलाज के अभाव में मौत

परिजनों ने मचाया हंगामा,
मामला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र छुरिया का


छुरिया- सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र छुरिया में डॉक्टर नहीं होने से ईलाज के अभाव में घायल युवक की मौत हो गई । जिससे आक्रोशित होकर मृतक के परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा मचाया । घटना की जानकारी मिलते ही भाजपा के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और अस्पताल प्रबंधक के खिलाफ नाराजगी जताते हुए उच्चाधिकारियों से इसकी शिकायत की । देर रात तक अस्पताल में गहमागहमी मची रही । परिजनों को डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही का आश्वासन मिलने के बाद मामला शांत हुआ ।


मिली जानकारी अनुसार मृतक गैन्दलाल साहू पिता भग्गू लाल साहू उम्र 38 वर्ष निवासी आटरा अपने एक साथी टिनू शांडिल्य के साथ बीती रात अपनी मोटर सायकल पर अपनी लड़की के जन्मदिन के लिए केक लेने गांव से निकला था कि इस दौरान सड़क के बीचों बीच जंगली सूअर से मोटर सायकल की भिंड़त हो गई । जहां जंगली सूअर ने घायल युवक पर पलटवार कर दिया । जिससे उसके सिर पर गंभीर चोंटे आयी । राहगीरों के हंगामे के बाद जंगली सूअर जंगल की तरफ भाग गया। घायल युवक को उसके परिजनों ने 112 की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र छुरिया में उपचार के लिए लाये जहां अस्पताल में ड्यूटी में डॉक्टर नदारद थे । जिसे देख परिजन भड़क उठे, और इसकी खबर भाजपा महामंत्री संजय सिन्हा, भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष कान्ता साहू, टीकम साहू, टुम्मन साहू को दी । जिसकी शिकायत भाजपाईयों ने जिला कलेक्टर से लेकर स्वास्थ्य अमला के उच्चाधिकारियों से की । तब जाकर प्रशासन हरकत में आया लेकिन तब तक देर हो चुका था और ईलाज के अभाव में युवक की मौत हो गई थी । जिससे गुस्साए परिजनों ने इसका आरोप डॉक्टर पर लगाते हुए उन पर कड़ी कार्यवाही की मांग करते हुए भाजपा नेताओं के साथ अस्पताल परिसर के गेट के समीप धरने पर बैठ गए । परिजनों ने डॉक्टर के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज करायी है । जहां जांच कार्यवाही का आश्वासन मिलने के बाद ही परिजनों का गुस्सा शांत हुआ । दूसरे दिन मृतक युवक का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंपा गया । जहां गमगीन माहौल में मृतक युवक का दाह संस्कार गृह ग्राम आटरा में किया गया।

0 शिकायत के बाद अस्पताल पहुंचे एसडीएम
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में डॉक्टर की लापरवाही से ईलाज के अभाव में युवक की मौत के बाद दूसरे दिन एसडीएम डोंगरगांव मनोज मरकाम छुरिया अस्पताल पहुंचे । जहां परिजनों के अलावा भाजपा नेताओं ने भी अस्पताल में अव्यवस्था को लेकर उनसे शिकायत की । जिस पर एसडीएम मरकाम ने तहसीलदार विजय कोठारी को इस मामले की जांच करने निर्देशित किया । तहसीलदार कोठारी ने परिजनों के अलावा अस्पताल में ड्यूटी पर उपस्थित नर्स एवं स्वास्थ्य कर्मियों से कलमबद्ध बयान दर्ज किया है।

0 सीएमएचओ ने दिलाया जांच का भरोसा
मृतक गैन्दलाल की मौत को लेकर परिजनों के अलावा भाजपा के वरिष्ठ नेता चंद्रिका प्रसाद डड़सेना एवं भाजपा पदाधिकारियों ने जिला स्वास्थ्य अधिकारी नेतराम नवरतन को अस्पताल में मरीजों के साथ दुर्व्यवहार एवं ईलाज में लापरवाही को लेकर उनके समक्ष नाराजगी जाहिर की । उन्होंने भाजपा नेताओं को आश्वस्त करते हुए इस पूरे मामले की जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषियों पर कड़ी कार्यवाही का भरोसा दिलाया है ।

advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button