मध्य प्रदेश

जीतू के कारण रुकी विदिशा, मुरैना, ग्वालियर सीट

भोपाल

प्रदेश कांग्रेस के सेकेंड लाइन के नेताओं के बीच एक राय नहीं होने के चलते कुछ सीटों पर पार्टी अपने उम्मीदवार चयन को लेकर निर्णय नहीं ले पाई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी के कारण ग्वालियर, विदिशा और मुरैना लोकसभा सीट पर उम्मीदवार का ऐलान नहीं हो सका। वहीं गुना लोकसभा सीट से दूसरी पार्टी के एक नेता के निर्णय का कांग्रेस को इंतजार है। यदि गुना में कांग्रेस अपनी रणनीति में कामयाब रही तो अरुण यादव को खंडवा से फिर से चुनाव लड़ना पड़ा सकता है।

सूत्रों की मानी जाए तो जीतू पटवारी विदिशा से प्रतापभानु शर्मा को टिकट दिलाना चाहते हैं। इस सीट से प्रताप भानु शर्मा का नाम आते ही विदिशा के कई नेताओं ने शर्मा की पुरानी हार का पूरा रिकॉर्ड पार्टी के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी तक पहुंचा दिया। इसी बीच नेता प्र्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने यह दांव खेलते हुए यहां से अनुमा आचार्य का नाम आगे बढ़ाया। अब इन दोनों के नाम पर फैसला पार्टी के केंद्रीय नेताओं को लेना है। इधर मुरैना सीट पर भी ऐसा ही हैं, यहां पर एआईसीसी के सर्वे में सत्यपाल सिंह सिकरवार का नाम सबसे मजबूत उम्मीदवार के रूप में आया है। जबकि जीतू पटवारी यहां से विधायक पंकज उपाध्याय को टिकट दिए जाने की सिफारिश कर रहे हैं। भाजपा यहां से शिवमंगल सिंह तोमर को उम्मीदवार बना चुकी है, जिस पर यह तर्क दिया जा रहा है कि यहां से ब्राह्मण उम्मीदवार यदि कांग्रेस उतारेगी तो उसे फायदा मिलेगा। इस पर अब निर्णय अब पार्टी के केंद्रीय नेताओं को ही लेना है। इसके चलते ग्वालियर को भी होल्ड किया गया। यदि जीतू पटवारी के दिए हुए समीकरण पर पार्टी चली तो सिकरवार को ग्वालियर से चुनाव लड़ाया जा सकता है।

अचानक होल्ड हुई गुना
गुरुवार को हुई केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में गुना से अरुण यादव का नाम लगभग तय हो गया था, इसके बाद दो दिन तक यह लिस्ट गुना को लेकर ही रुकी रही। दरअसल शुक्रवार की सुबह दिल्ली तक यह संदेश पहुंचा ही एक नेता कांग्रेस ज्वाइन कर सकते हैं, उनसे पार्टी के कुछ नेता संपर्क में हैं। यहां से दावेदारों में एक नाम यादवेंद्र यादव का भी है। इसके चलते गुना सीट को होल्ड कर लिया गया है। खंडवा को गुना के कारण रोका गया है, यदि यहां से अरुण यादव को टिकट नहीं मिला तो उन्हें खंडवा से लड़ाया जा सकता है। वहीं दमोह में दोनों महिला रामसिया भारती और रंजीता पटेल में से किसे टिकट दिया जाए यह तय नहीं हो सका है।

अप्रत्याशित नाम आए सामने
कांग्रेस ने की 22 सीटों में से कई सीटों पर अप्रत्याशित उम्मीदवार दिए हैं। इदंौर में कांग्रेस के पास कई मजबूत नेता थे, लेकिन अक्षय कांतिबम को उम्मीदवार बनाया। इसी तरह धार से भी कई मतबूत नेताओं के होते हुए राधेश्याम मुवेल को टिकट दिया। इसी तरह बालाघाट से सम्राट सारस्वत, सागर से गुड्डू राजा बुंदेला का नाम सामने आया। बुंदेला करीब एक साल पहले तक उत्तर प्रदेश में सक्रिय थे, अब वे यहां से उम्मीदवार बनाए गए।

क्षेत्र                         भाजपा                                    कांग्रेस
मुरैना                      शिवमंगल सिंह तोमर                 घोषित नहीं
भिंड                       संध्या राय                               फूल सिंह बरैया
ग्वालियर                 भारत सिंह कुशवाह                    घोषित नहीं
गुना                        ज्योतिरादित्य सिंधिया               घोषित नहीं
सागर                      लता वानखेडे                           गुड्डू राजा बुंदेला
टीकमगढ़                 वीरेंद्र खटीक                            पंकज अहिरवार
दमोह                      राहुल लोधी                             घोषित नहीं
खजुराहो                   वीडी शर्मा                              सपा को दी
सतना                      गणेश सिंह                            सिद्धार्थ कुशवाह
रीवा                        जर्नादन सिंह                          नीलम मिश्रा
सीधी                       डॉ. राजेश मिश्रा                       कमलेश्वर पटेल
शहडोल                    हिमाद्री सिंह                           फुंदेलाल मार्को
जबलपुर                   आशीष दुबे                            दिनेश यादव
मंडला                      फग्गन सिंह कुलस्ते                 ओमकार सिंह मरकाम
बालाघाट                  रजनी पारधी                          सम्राट सारस्वत
छिंदवाड़ा                  विवेक साहू बंटी                       नकुलनाथ
बैतूल                       दुर्गादास उइके                        रामू टेकाम
होशंगाबाद                 दर्शन सिंह चौधरी                    संजय शर्मा
विदिशा                    शिवराज सिंह चौहान                 घोषित नहीं
भोपाल                    आलोक शर्मा                           अरुण श्रीवास्तव
राजगढ                    रोडमल नागर                        दिग्विजय सिंह
देवास                     महेंद्र सिंह सोलंकी                    राजेंद्र मालवीय
उज्जैन                    अनिल फिरोजिया                    महेश परमार
मंदसौर                   सुधीर गुप्ता                             दिलीप सिंह गुर्जर
रतलाम                  अनीता नागर सिंह चौहान            कांतिलाल भूरिया
खरगौन                 गजेंद्र पटेल                               पोरलाल खरते
खंडवा                   ज्ञानेश्वर पटेल                           घोषित नहीं
इंदौर                    शंकर लालवानी                         अक्षय कांति बम
धार                     सावित्री ठाकुर                           राधेश्याम मुवेल

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button