मध्य प्रदेश

विधायक कमलेश शाह ने कांग्रेस विधायक पद से इस्तीफा देकर भोपाल में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की

छिंदवाड़ा
अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता और विधायक पद से इस्तीफा देकर भोपाल में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। मुख्यमंत्री मोहन यादव और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा, भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री शिवप्रकाश पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सी एम हाउस में उन्हें पार्टी का दुपट्टा उढाकर भाजपा में स्वागत किया। अमरवाड़ा से कांग्रेस विधायक कमलेश शाह ने विधानसभा की सदस्यता से त्यागपत्र भी दे दिया है।

कमलेश शाह के साथ हर्रई की पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष माधवी शाह, जिला पंचायत सदस्य केशर नेताम ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। विधायक के साथ भाजपा विधानसभा चुनाव प्रभारी नितिन तिवारी, जिला महामंत्री टीकाराम चंद्रवंशी, भाजपा नेता उमेश शर्मा, मंडल अध्यक्ष सोनू सरस्वार ने मुख्यमंत्री मोहन यादव एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा से चर्चा की।
 
इस अवसर पर विधायक कमलेश शाह ने कहा कांग्रेस में लगातार नकुलनाथ द्वारा आदिवासियों का अपमान किया जा रहा है।कांग्रेस में रहकर अमरवाड़ा क्षेत्र का विकास करना संभव नहीं रह गया है। छिंदवाड़ा के सांसद नकुल नाथ चुने हुए जनप्रतिनिधियों, आदिवासी समाज के नेताओं और कार्यकर्ताओं का अपमान करते हैं।उन्होंने कहा मोदी कि गारंटी के साथ छिंदवाड़ा से भाजपा का सांसद बनना तय है।

छिंदवाड़ा जिले में ये कांग्रेस के लिए बड़ा झटका है, क्योंकि बीते विधानसभा चुनाव में 7 में से सातों विधायक कांग्रेस से जीते थे, लेकिन अब अमरवाड़ा विधायक के पाला बदलने के बाद कांग्रेस के 6 विधायक रह गए हैं। कमलेश शाह पूर्व सीएम कमल नाथ के सबसे भरोसेमंद में से एक थे, लेकिन उनके पार्टी छोड़ना पार्टी के लिए बड़ा झटका है। अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह तीन बार से लगातार विधायक हैं। राज परिवार से ताल्लुक रखते है। उनकी पत्नी माधवी शाह नगर पंचायत अध्यक्ष रह चुकी है। पिछले चुनाव मोनिका बट्टी को पराजित किया था

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button