मध्य प्रदेश

अवैध संबंधों के चलते पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या

चंदेरा
घटना का संक्षिप्त विवरण- रमेश अहिरवार पुत्र किशोरी अहिरवार निवासी बापू नगर थाना चंदेरा की पत्नी ने दिनांक 16.1.24 को थाना चंदेरा में आकर रिपोर्ट किया कि उसका पति घर से बिना बताए कही चला गया है। जिस पर थाना चंदेरा में गुम इंसान क्र 01/24 कायम कर जांच में लिया गया । रमेश की तलाश के दौरान दिनांक 25/1/24 की शाम पुलिस को रमेश का शव भरवारा हार बीरपुरा तिगैला के पास संदिग्ध हालात में मिला । जिस पर थाना में मर्ग कायम कर जांच में लिया गया।

 वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा दिए गए निर्देश- उपरोक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए  पुलिस महानिरीक्षक सागर जोन सागर श्री प्रमोद वर्मा, पुलिस उपमहानिरीक्षक छतरपुर रेंज छतरपुर श्री ललित शाक्यवार पुलिस अधीक्षक टीकमगढ़ श्री रोहित काशवानी द्वारा उक्त अपराध के आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक टीकमगढ़ श्री सीताराम एवं एसडीओपी जतारा श्री अभिषेक गौतम के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी चंदेरा उनि. अंकित दुबे के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गठित की गई ।
 पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही-उपरोक्त घटना के करीब 3 महीने बीत जानें के बाद भी कोई पुख्ता सबूत पुलिस के हाथ नहीं लग रहा था ।

मृतक रमेश के परिजनों द्वारा भी जांच में सहयोग नहीं किया जा रहा था। पुलिस की नजर में शक की सुई मृतक के परिवार में ही घूम रही थी । तभी गुप्त सूत्रों एवं जनचर्चा से सूचना प्राप्त हुई कि, मृतक रमेश की पत्नी  के अवैध संबंध ग्राम के ही प्रह्लाद अहिरवार से हैं, अवैध संबंधों के चलते इन दोनों के द्वारा ही घटना को अंजाम दिया गया है । जिस पर गठित पुलिस टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही कर परिजनों से पुनः पूछताछ कर मृतक की पत्नी  और प्रह्लाद अहिरवार को अभिरक्षा में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई जो दोनो के द्वारा मिलकर रमेश की हत्या कारित करना कबूल किया ।

दोनों ने पुलिस को बताया कि मृतक रमेश शराब पीने का आदी था तथा अपनी पत्नी  की मारपीट करता था जिससे मृतक रमेश के दोस्त प्रह्लाद से उसकी पत्नी का प्रेम प्रसंग चलने लगा । एवं दोनो ने एक दिन प्रेम संबंधों में बाधक रमेश को रास्ते से हटाने की योजना बनाई । और प्रह्लाद द्वारा रमेश को शराब पीने के बहाने खेत पर बुलाया और शराब पिलाकर नशा हो जाने पर रमेश की पत्नी  को खेत पर बुलाकर दोनों ने रमेश की मारपीट की और मुँह पर तौलिया लगाकर एवं अंडकोष में चोट पहुंचाकर हत्या कारित कर दी । और रमेश की लाश खेत में छोड़कर घर आ गए ।

कोई शक ना करे इसलिए मृतक की पत्नी ने अगले दिन थाना चंदेरा जाकर पति रमेश के गुम हो जाने की झूठी रिपोर्ट लेख करा दी। और तीन महीने तक पुलिस को गुमराह करती रही । अंधे कत्ल के खुलासे एवं घटना की सत्यता परीक्षण हेतु पुलिस द्वारा परिस्थिति जन्य साक्ष्य के अलावा भौतिक साक्ष्य, चिकित्सकीय साक्ष्य, इलेक्ट्रॉनिक (साइबर) साक्ष्य का संकलन कर घटना को पुष्टि की गई । जिसके आधार पर हत्या जैसा गंभीर अपराध घटित करना पाये जाने से आरोपी प्रहलाद अहिरवार व मृतक की पत्नी  के खिलाफ अपराध धारा 302,201,120 (वी), 34 ताहि. के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपीगणों को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय जतारा पेश किया गया।

मृतक- रमेश अहिरवार पुत्र किशोरी अहिरवार निवासी बापू नगर थाना चंदेरा

आरोपी का विवरण – 1.प्रहलाद अहिरवार पिता ग्यासीलाल अहिरवार उम्र 25 साल निवासी चंदेरा

2.मृतक की पत्नी उम्र 21 साल निवासी बापूनगर चंदेरा जिला टीकमगढ़

आरोपियों को गिरफ्तार करने में- थाना प्रभारी चंदेरा उपनिरीक्षक अंकित दुबे, asi रामपाल सिंह, asi करण सिंह यादव, आर. 407 रामचन्द्र नायक, आर. 455 वेदप्रकाश शर्मा, आर. 170 काशीराम, म.आर 663 अंकिता शर्मा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button