मध्य प्रदेश

जंगल में मिला घर से लापता 5 वर्ष के बच्चे का शव, जंगली जानवर के हमले से मौत की आशंका

दमोह, तेंदूखेड़ा.
तेंदूखेड़ा वन परिक्षेत्र की सहजपुर बीट में शुक्रवार शाम पांच वर्षीय सुभाष आदिवासी का शव मिला है। जिसमें किसी जंगली जानवर के हमले से मौत होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। गांव के कुछ लोगों को जंगली क्षेत्र में एक बच्चे का शव अर्धनग्न अवस्था में पड़ा होने की सूचना मिली और मौके पर जाकर देखा तो बच्चा गांव का ही था जो एक दिन पूर्व घर से लापता था। लोगों ने घटना की जानकारी स्वजनों को दी तो वह भी मौके पर पहुंचे। जानकारी लगते ही वन अमला भी मौके पर पहुंच गया। शनिवार सुबह पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजनों के सुपुर्द किया गया। जिस जगह बच्चे का शव मिला है उसके आसपास के क्षेत्र में कई तरह के जंगली मांसाहारी जानवरों ने अपना बसेरा बना रखा है। इसके एक और तेंदुआ पूरे परिवार के साथ रहता है वही दूसरी और बड़ी तादात में भालूओं का बसेरा बना हुआ है।

अब बच्चे पर किस जानवर द्वारा हमला किया गया है इसकी पुष्टि तत्काल में तो किसी ने नहीं की है। मगर यह तय हो गया है कि मासूम बच्चे की मौत जंगली जानवर के हमले में हुई है। स्वजनों को बच्चे गुम होने की जानकारी लगी तो घटना के एक दिन पहले उन्होंने तेंदूखेड़ा थाने पहुंचकर गुमशुदगी दर्ज कराई थी और दूसरे दिन शुक्रवार को सहजपुर इमलीडोल मुख्य मार्ग से अंदर जंगली क्षेत्र में बच्चे का शव पड़ा मिला।

मृतक बच्चे के चाचा ने बताया कि गुरुवार को मासूम सुभाष गांव के बच्चों के साथ खेलते- खेलते आम तोड़ने चला गया था। वहां से वापस नहीं आया। हम लोगों ने खोजबीन की नहीं मिला उसके बाद गुरुवार की शाम तेंदूखेड़ा थाने में बच्चे की गुमसुदगी दर्ज कराई थी। सुभाष ज़ब घर से गया था उसने शर्ट और पेंट पहन रखी थी, लेकिन ज़ब शव मिला उसके शरीर पर पेंट था वह भी फटा हुआ।

मृतक ने नाना रामस्वरूप आदिवासी ने बताया कि सुभाष उसका नाती है। बुधवार को हम सभी लोग शादी में गये थे। गुरुवार को आये तो पता चला कि नाती सुभाष नहीं मिल रहा। हमने सोचा खेत चला गया होगा क्योंकि खेत में भी रहवास था। इसलिए हम लोग सो गये। ज़ब उठे तो सुभाष खेत में भी नहीं था। उसके बाद हम लोगों ने तेंदूखेड़ा थाने में गुरुवार को गुमशुदगी जी दर्ज कराई। खोजबीन में लग गये शुक्रवार की शाम को खोजबीन के दौरान जंगली क्षेत्र में गये तो स्टापडेम के नाम से जानी जाने बाली जगह पर सुभाष मृतक अवस्था में पड़ा हुआ था।

तेंदूखेड़ा रेंजर मेघा पटेल ने बताया कि घटना की सूचना शुक्रवार को शाम पांच बजे के लगभग मिली थी। वह स्टाफ के साथ मौके पर पहुंची और घटना स्थल की पूरी जानकारी एकत्रित की गई। मृतक बच्चे का नाम सुभाष पिता तेजी आदिवासी उम्र चार या पांच वर्ष है और घटना स्थल आरएफ 206 है। मौके पर ही कार्रवाई कराई गई। बच्चे पर हमला करने वाला जंगली जानवर है, लेकिन कौन सा है इसकी खोजबीन कराई जा रही है। शनिवार को बच्चे के शव का पोस्टमार्टम हुआ है आगे कार्रवाई चल रही है।

तेंदूखेड़ा टीआई फेमिदा खान ने बताया कि गुरुवार को बच्चे के गुम होने की गुमशुदगी दर्ज हुई थी। शुक्रवार को बच्चे का शव जंगल में मिला। पुलिस ने मौका स्थल पर पहुंचकर घटना स्थल पर पंचनामा कार्रवाई की प्रथम दृस्टि में बच्चे की मौत जंगली जानवर के हमले से हुई है। आगे पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई होगी।

advertisement
advertisement
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button