नक्सली हमले पर अमित शाह की हाई लेवल मीटिंग, बोले- जिन जवानों ने खून बहाया उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले को लेकर नई दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह ने अपने आवास पर हाईलेवल मीटिंग बुलाई । बैठक में केंद्रीय गृहसचिव, आईबी चीफ, सीआरपीएफ और गृहमंत्रालय के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह बैठक करीब 60 मिनट से ऊपर चली है। बैठक में नक्सली हमले के बारे में बिंदुवार चर्चा की गई है। बताया जा रहा है कि गृहमंत्री नक्सलियों के खिलाफ कड़े कदम उठा सकते हैं। 

इससे पहले नक्सली हमले पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि जिन जवानों ने अपना खून बहाया है उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उचित समय पर इसका करारा जवाब दिया जाएगा।  केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘‘जहां तक संख्या का सवाल है, इसपर अभी कुछ कहना जल्दीबाजी होगी। हालांकि हमले में दोनों साइड को नुकसान हुआ है। लेकिन इतना आश्वस्त करता हूं कि हमारे जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। हमले की वजह से गृहमंत्री अमित शाह ने असम में चुनावी दौरा रद्द कर दिल्ली लौट गए। दिल्ली में अमित शाह ने नक्सली हमले पर गृहमंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। 

उचित समय पर दिया जाएगा करारा जवाब
उन्होंने कहा, ‘‘हमारे सुरक्षाकर्मियों ने अपनी जान गंवाई है, इस बर्बरता पूर्ण किए गए हमले को बर्दाश्त नहीं करेंगे और उचित समय पर जवाब दिया जाएगा।’’ अमित शाह ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को फोन कर बीजापुर में हुए नक्सली हमले के संबंध में फोन पर बातचीत की । मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय गृह मंत्री को राज्य और केंद्र के सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ की स्थिति की पूरी जानकारी दी। 

नक्सली हमले में 22 जवान शहीद
बता दें कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले में 22 जवान शहीद हो गए। पुलिस ने कहा है कि मुठभेड़ के बाद लापता हुए 18 जवानों में से 17 के पार्थिव शरीर मिले हैं, और कुछ जवानों को नक्सलियों ने ट्रैक्टर ट्रॉली में भरकर ले गए । इसकी तलाश जारी है। नक्सली जवानों की हत्या करने के बाद हथियार लूट ले गए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button