टीवी पर भगवान का रोल निभाने नहीं होता आसान: हितांशु सोनी

टीवी पर भगवान का रोल निभाना बहुत जिम्मेदारी का काम है. जो दर्शक शो को देख रहे होते हैं वो इन किरदारों से अपनी आस्था के साथ जुड़ जाते हैं. उनको उम्मीद रहती है कि शो में उनके पसंदीदा भगवान का किरदार निभा रहे एक्टर अपने जीवन में भी शुद्ध अंत:करण से मर्यादाओं का पालन करें. एक्टर हितांशु जिंसी हिंदी टेलीविजन पर कई पौराणिक शोज़ और फैमिली ड्रामा का हिस्सा रह चुके हैं. इस समय हितांशु सोनी टीवी के शो ‘विघ्नहर्ता गणेशÓ में भगवान जगन्नाथ का रोल निभा रहे हैं. हितांशु का मानना है कि इस तरह के पौराणिक किरदार निभाना बड़ी जिम्मेदारी होती है, लेकिन वो दोनों जॉनर्स में काम करने का भरपूर मजा लेते हैं. उनका मानना है कि भगवान का रोल निभाना आसान नहीं है.
हितांशु कहते हैं, मैंने पौराणिक शोज़ के साथ-साथ डेली सोप भी किए हैं. मुझे लगता है कि दोनों का अपना आकर्षण होता है. मैं यह कहूंगा कि एक पौराणिक शो से लेकर सास-बहू ड्रामा तक, मैंने हर बदलाव का हमेशा मजा लिया है. एक एक्टर के रूप में हमें किसी एक विषय में बंधकर रह जाने के बजाय अलग-अलग तरह की भूमिकाएं निभाने की जरूरत होती है. इसलिए मैं हमेशा किसी पीरियड ड्रामा या किसी पौराणिक धारावाहिक के बाद एक सामाजिक शो करता हूं. डेली सोप में आप ऐसा किरदार निभाते हैं, जो किसी असली व्यक्ति से प्रेरित हो या जिसमें किसी वास्तविक व्यक्ति के गुण हों.
लेकिन पौराणिक शोज़ में जब इस तरह के दिव्य किरदार निभाने की बात आती है, तो एक्टर के रूप में हमें बहुत ध्यान रखना होता है और इसे पूरी जिम्मेदारी के साथ निभाना होता है, ताकि किसी की भी भावनाओं को ठेस ना पहुंचे. किसी भी किरदार को निभाने के लिए हर एक्टर को एक आंतरिक प्रक्रिया का पालन करना होता है. इसमें सबसे बड़ा काम ये होता है कि आपको भगवान की तरह ही सोचना होता है, जिसके लिए कोई संदर्भ उपलब्ध नहीं है कि वे किसी विशेष परिस्थिति में किस तरह प्रतिक्रिया देंगे.
मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि मुझे यह रोल निभाने का मौका मिला. मुझे दर्शकों से जिस तरह का प्यार मिल रहा है, वो बहुत शानदार है. इस तरह के किरदार निभाते हुए आपको काफी संवेदनशील रहने की जरूरत है. यह बड़ा मजेदार होता है कि आप एक शो में इस तरह का पूजनीय किरदार निभाते हैं और दूसरे शो में पड़ोस के लड़के का रोमांटिक रोल निभाते हैं. तो क्या ये बदलाव उनके लिए चुनौतीपूर्ण था? हितांशु बताते हैं, अलग-अलग जॉनर्स की भूमिकाएं निभाना आसान नहीं होता, लेकिन मुझे दो जॉनर्स के बीच अदला-बदली करना बड़ा मजेदार लगता है. अंत में जो बात मायने रखती है, वो यह कि दर्शक उस एक्टर को स्वीकार करें, जो इस तरह के अलग-अलग रोल्स निभा रहा है.
पूर्व में हितांशु ने ‘महाकाली : अंत ही आरंभ हैÓ में विष्णु का रोल निभाया था. हितांशु बताते हैं, कृष्ण भक्त होने के नाते मैं स्वयं को भाग्यशाली मानता हूं कि मुझे एक दशक पहले भगवान कृष्ण की भूमिका निभाने का मौका मिला. और अब मैं विघ्नहर्ता गणेश में भगवान जगन्नाथ की भूमिका निभा रहा हूं. मैं वाकई खुद को धन्य मानता हूं कि मुझे ऐसे पौराणिक शोज़ का हिस्सा बनने का मौका मिला, जिसमें ऐसे विचारशील संदेश होते हैं, जो मुझे अपनी सांस्कृतिक जड़ों के करीब ले आते हैं. मुझे लगता है कि सभी देवी देवता मुझ पर अपने प्रेम और आशीर्वाद की वर्षा कर रहे हैं, नहीं तो मैं यह भूमिका नहीं निभा रहा होता.
००

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *